भूस्खलन से गंगोत्री हाईवे बंद

भूस्खलन से गंगोत्री हाईवे बंद
gangotri-highway-closed-due-to-landslide

उत्तरकाशी, 24 अप्रैल (हि.स.)। पहाड़ों में पिछले 5 दिन तक हुई बारिश और बर्फबारी से मैदानी जिलों के लोगों को गर्मी से राहत मिली है पर ऊपरी जिलों में आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। उत्तरकाशी जिले में उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बर्फबारी के कारण सुक्की से गंगोत्री के बीच कई जगह भूस्खलन हुआ है। इसकी वजह से गंगोत्री हाईवे बंद हो गया। हाईवे बंद हो जाने से गंगोत्री धाम और हर्षिल घाटी के करीब आठ गांवों का सम्पर्क जिला मुख्यालय से कट गया। रोड खोलने के लिए बीआरओ की मशीनरी सुक्की, धराली और भैरोघाटी में काम कर रही है। यही नहीं हर्षिल घाटी में बर्फबारी के कारण पहले सेब की फसल को भारी नुकसान हुआ। वहीं, शुक्रवार को बड़कोट के ऊंचाई वाले इलाकों खरसाली और गीठ पट्टी के गांवों में भी बर्फबारी होने से फसलों को खासा नुकसान हुआ है। बड़कोट के सरबडियार क्षेत्र में बर्फबारी के कारण चार गांवों में बिजली गुल है। भटवाड़ी विकासखण्ड के करीब दो दर्जन गांवों में बिजली नहीं है। बिजली लाइन को सही करने के लिए यूपीसीएल के कर्मचारी मौके पर मौजूद है। जनपद की दो आंतरिक सड़कें भी बर्फबारी के कारण बन्द हैं। बीआरओ हर्षिल और गंगोत्री घाटी में हाईवे सुचारू करने का प्रयास कर रहा है। गंगोत्री हाईवे पर अधिक बर्फ होने के कारण मशीनरी को मार्ग खोलने में मशक्कत करनी पड़ रही है। हिन्दुस्थान समाचार /चिरंजीव सेमवाल