kiratpur-beo39s-salary-postponed-due-to-inaction-in-kovid-19-vaccination
kiratpur-beo39s-salary-postponed-due-to-inaction-in-kovid-19-vaccination
बिहार

कोविड-19 टीकाकरण में निष्क्रियता को लेकर किरतपुर बीईओ का वेतन स्थगित

news

दरभंगा, 3 अप्रैल (हि.स.)। जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. की अध्यक्षता में शनिवार को उनके कार्यालय प्रकोष्ठ में कोविड-19 टीकाकरण की प्रगति को लेकर समीक्षा बैठक की गयी। जिला स्वास्थ्य समिति के डी.पी.एम. विशाल कुमार ने बैठक को संबोधित करते हुए बताया कि दरभंगा में प्रतिदिन 7 से 8 हजार टीकाकरण किया जा रहा है। 45 वर्ष से ऊपर वाले सभी शिक्षकों एवं जीविका दीदी पहले अपना टीकाकरण करा लें और उसके उपरांत अपने सम्पर्क वालों को प्रोत्साहित कर टीकाकरण करावें। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन प्रखण्ड स्तर पर संध्या ब्रीफिंग की जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि टीकाकरण का राज्य औसत को देखते हुए दरभंगा में प्रतिदिन कम से कम 11 हजार टीकाकरण होना चाहिए। उन्होंने वैसे प्रखण्ड जहाँ टीकाकरण की गति धीमी पायी, वहाँ के प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, प्रखण्ड शिक्षा पदाधिकारी एवं प्रखण्ड परियोजना प्रबंधक, जीविका से जवाब-तलब किया। किरतपुर के प्रखण्ड शिक्षा पदाधिकारी की निष्क्रियता को देखते हुए उनका वेतन स्थगित करते हुए उनसे स्पष्टीकरण की माँग की गयी है। कुशेश्वरस्थान पूर्वी प्रखंड से भी जवाब-तलब किया गया। बहेड़ी, सिंहवाड़ा एवं केवटी प्रखंड की की प्रगति अच्छी पायी गयी। जिलाधिकारी ने 20 से अधिक पंचायत वाले प्रखण्डों को प्रतिदिन न्यूनतम 700 एवं 20 से कम पंचायत वाले प्रखण्डों को प्रतिदिन न्यूनतम 500 टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित किया। उन्होंने सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को एक दिन पूर्व टीकाकरण स्थल के समीप के जन-प्रतिनिधियों, शिक्षकों एवं जीविका दीदीयों के माध्यम से जन-जागरूकता कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इस तरह से टीकाकरण की कार्य योजना बनायी जाए कि टीकाकरण केन्द्र की व्यवस्था भी बनी रहें और लोगों को प्रतीक्षा भी न करना पड़े। उन्हें चरणवार बुलाया जाए। हिन्दुस्थान समाचार/मनोज/चंदा