dhamtari-till-now-more-than-one-lakh-25-thousand-have-been-vaccinated-by-kovid
dhamtari-till-now-more-than-one-lakh-25-thousand-have-been-vaccinated-by-kovid
news

धमतरी : अब तक एक लाख 25 हजार से अधिक को लगा कोविड का वैक्सीन

news

धमतरी 8 अप्रैल ( हि. स.)। प्रदेश के वाणिज्यिक कर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए धमतरी जिला में कोरोना बीमारी की स्थिति, संक्रमण से बचाव, रोकथाम और सुरक्षा के लिए अपनाएं गए उपायों की समीक्षा की। इस मौके पर वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़े कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने बताया कि जिले में अब तक एक लाख 25 हजार 542 को कोविड का टीका लग चुका है। पहला डोज एक लाख 15 हजार 345 और दोनों डोज दस हजार 197 को लगाया गया है। इस तरह जिले के 66 प्रतिशत लोगों को पहला डोज लग चुका है। इसमें 45 साल से अधिक उम्र के 64 प्रतिशत लोगों को टीका लगा है।गौरतलब है कि जिले में इस आयु वर्ग के एक लाख 60 हजार 753 में से एक लाख तीन हजार 380 लोगों को कोरोना का टीका लग चुका है। इसी तरह 71 प्रतिशत फ्रंट लाइन वर्कर्स और 74 प्रतिशत स्वास्थ्य कर्मियों को दोनों डोज लग चुका है। उन्होंने बताया कि जिले में 153 केंद्र के जरिए टीकाकरण किया जा रहा है। इसी तरह दैनिक कोरोना टेस्ट की प्रगति की जानकारी देते हुए कलेक्टर ने बताया कि सात अप्रैल की स्थिति में जिले में 1571 की टेस्टिंग की गई है। वर्तमान में एक्टिव केस की संख्या 1408 है। इसमें से 1143 होम आइसोलेशन में हैं। कलेक्टर ने बताया कि जिले में कोविड केयर बेड की संख्या 284 है। इसके अलावा पांच वेंटीलेटर उपलब्ध हैं। प्रभारी मंत्री ने वेंटीलेटर की संख्या दस करने पर जोर दिया। इस पर कलेक्टर ने बताया कि अगले एक सप्ताह में डीएमएफ मद से अथवा दान-दाताओं से पांच वेंटीलेटर की व्यवस्था करने का हरसंभव प्रयास की योजना है। उन्होंने साथ ही बताया कि जिले में शाम छः से सुबह छः बजे तक सभी दुकानें बंद रखी जा रही हैं। इसमें सभी व्यापारियों का भी अच्छा सहयोग मिल रहा है। इसके अलावा अगर जरूरत पड़ी तो व्यवस्थित तरीके से उन वार्ड अथवा क्षेत्र को कंटेनमेंट बनाए जाने की योजना है, जहां अधिक धनात्मक प्रकरण आ रहे हों। कोविड बीमारी की रोकथाम के लिए जरूरी है कि लोग संयमित व्यवहार करते हुए कोविड नियमों का पालन करें। जिले में नियमित मास्क, हाथों की सफाई और शारीरिक दूरी के नियम का पालन करना सुनिश्चित करने जिला प्रशासन का राजस्व, पुलिस, नगरीय निकाय और पंचायत का अमला समझाइश देने और अमल कराने जुटा हुआ है। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन