विद्या भैया का देश के राजनीति में दबंग और मुखर नेता के रूप में पहचान : शोरी
विद्या भैया का देश के राजनीति में दबंग और मुखर नेता के रूप में पहचान : शोरी
news

विद्या भैया का देश के राजनीति में दबंग और मुखर नेता के रूप में पहचान : शोरी

news

विद्या भैया का देश के राजनीति में दबंग और मुखर नेता के रूप में पहचान : शोरी कांकेर 2 अगस्त (हि.स.)। जिला कांग्रेस कमेटी कांकेर के द्वारा रविवार 2 अगस्त को विधायक निवास कांकेर मेें स्वतंत्रता संग्राम सेनानी तथा अविभाजित मध्यप्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री पं. रविशंकर शुक्ल तथा छत्तीसगढ़ के कांग्रेस नेता व पूर्व केन्द्रीय मंत्री पं. विद्याचरण शुक्ल की जयंती पर कांग्रेसजनों ने उनके योगदान को याद करते हुए उनके छायाचित्र पर पुष्पांजली अर्पित किया। इस दौरान संसदीय सचिव शिशुपाल शोरी ने उनके व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भारतीय स्वतत्रंता संग्राम के राष्ट्रीय स्तर के आन्दोलन में रविशंकर शुक्ल का योगदान सदैव याद किया जाता रहेगा, वे पत्रकारिता तथा वकालत के क्षेत्र में भी लोकप्रिय रहे। अविभाजित मध्यप्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री के रूप में उनके उल्लेखनीय योगदान हमेशा याद किये जाते रहेंगे। पं. विद्याचरण शुल्क के संबंध में अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि भारत के राजनीति में एक दबंग और मुखर नेता के रूप में विद्याचरण शुक्ल की पहचान रही, झीरम में नक्सली नरसहार से लोहा लेते हुए उन्होंने अपने शहादत भी दी। कार्यकर्ताओं तथा क्षेत्र में उन्हें सदैव विद्या भैैया के नाम से ही जाना जाता रहा। भारत सरकार में विभिन्न विभागों के मंत्री रहते हुए उन्होंने छ.ग. के क्षेत्र विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है, आज एैसे महान नेताओं का जन्मदिन है उनके जन्मदिवस पर उन्हें श्रद्धापूर्वक श्रद्धांजली अर्पित करता हूं । इस दौरान मुख्य रूप से जिला पंचायत उपाध्यक्ष हेमनारायण गजबल्ला, सदस्य अजजा आयोग नितिन पोटाई सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे । हिन्दुस्थान समाचार / अनुराग-hindusthansamachar.in