Banks की ताज़ा ख़बर, Banks ब्रेकिंग न्यूज़ in Hindi, Banks Latest News 

समाचार खोज परीणाम: "Banks"

कानपुर की बैंकों में खाताधारकों संग हो रहा धोखा, सामने आयी चौंकाने वाली रिपोर्ट

कानपुर। शहर की बैंकिंग सेवाओं को लेकर खाताधारकों में असंतोष कदर है कि लोग बैंकों में पैसा जमा करने से कतराने लगे हैं। बैंकों में खाताधारकों... क्लिक »

पहली बार सहकारी बोर्ड से होगी 906 पदों के लिए भर्ती

राजस्थान में सहकारी भर्ती बोर्ड के माध्यम से पहली बार 906 पदों पर भर्ती की जाएगी। भर्ती प्रक्रिया अप्रेल से शुरू होगी। भर्ती बोर्ड के जरिए... क्लिक »



समस्याओं पर सुनवाई नहीं हुई तो धरने पर बैठ गए किसान

[": रबी सीजन में फसल बुवाई का आखिरी चरण चल रहा है लेकिन राज्य के जैसलमेर जिले में मोहनगढ़ के पास नहरी क्षेत्र के दर्जनों किसान बुवाई नहीं... क्लिक »

कानपुर की निजी कंपनी ने 14 बैंकों को लगाई 3592 करोड़ की चपत 21 जनवरी 2020

केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने चार निजी कंपनियों समेत 14 आरोपियों के खिलाफ सरकारी बैंकों को 3592 48 करोड़ रुपये की चपत लगाने के आरोप में केस... क्लिक »

मृतक आश्रितों को दिए सहायता राशि के चेक, बैंकों ने लेने से किया इनकार

सुभाषपुरा के आठ युवाओं के आश्रितों को दो-दो लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा ऊर्जा मंत्री डॉ बीडी कल्ला ने की थी, लेकिन जिला प्रशासन... क्लिक »

1 साल में 1.75 लाख लोगों-कंपनियों ने निकाली 1 करोड़ से ज्यादा नकदी 08 जुलाई 2019

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को पेश बजट में नया ऐलान करते हुए कहा था कि अब साल में 1 करोड़ रुपये से ज्यादा निकासी करने वालों... क्लिक »

माल्या को SC ने सुनाई खरी खोटी, जस्टिस नरीमन ने खुद को सुनवाई से किया अलग 20 जनवरी 2020

भगोड़े कारोबारी विजय माल्या की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने खूब खरी खोटी सुनाई विजय माल्या से सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आपने... क्लिक »

सामने आया 27 बैंकों में 405 करोड़ रु. का घोटाला! अब इनसे होगी वसूली

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) लोन घोटाले की मार झेल रहे पंजाब नेशनल बैंक , यूनियन बैंक और सिंडिकेट बैंक सहित 6 सरकारी बैंकों के लोन देने पर... क्लिक »

जानें रघुराम राजन ने संसदीय समिति को क्या बताया?

देश में सरकारी और निजी बैंकों के नॉन परफॉर्मिंग असेट (एनपीए) केन्द्र सरकार के लिए बड़ी चुनौती है क्या देश के बैंकों को पूरी तरह से एक रेगुलेटर... क्लिक »

अर्थात्- बदकिस्मत सुधार!

रियल एस्टेट रेगुलेटरी बिल (रेरा) एक बड़ा सुधार था लेकिन यह आवास निर्माण में मंदी के समय प्रकट हुआ नतीजतन असंख्य प्रोजेक्ट बंद हो गए डूबा... क्लिक »