सुकमा : कारोना जागरुकता के लिए हेलीकॉप्टर से गांव-गांव में फेंके गए पर्चे

सुकमा : कारोना जागरुकता के लिए हेलीकॉप्टर से गांव-गांव में फेंके गए पर्चे
sukma-pamphlets-thrown-from-village-to-village-for-carona-awareness

पर्चे में बताया गया कि कोरोना संक्रमण से अब तक 12 नक्सलियों की हो चुकी है मौत सुकमा, 22 मई (हि.स.)। बस्तर संभाग में कोरोना संक्रमण के विस्तार को लेकर लॉकडाउन का दौर जारी है I इसी बीच दंतेवाड़ा पुलिस द्वारा बड़ी संख्या में नक्सलियों के कोरोना संक्रमित होने का दावा करते हुए नक्सलियों से आत्मसर्पण की अपील की है I इसी के साथ कहा गया कि आत्मसर्पण करने पर कोरोना का इलाज करवाया जाएगा। जिसके बाद कई कोरोना संक्रमित नक्सलियों ने आत्मसमर्पण भी किया, जिसका उपचार पुलिस करा रही है। इसके साथ ही एक कोरोना संक्रमित दंपत्ति का बयान भी दंतेवाड़ा पुलिस द्वारा जारी किया गया था। इस पूरे घटनाक्रम के बाद दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा के सरहदी गांव में हेलीकॉप्टर के माध्यम से पुलिस के द्वारा गांव-गांव में पर्चे फेंके गए हैं I पर्चे में कोरोना वायरस को लेकर एहतियात बरतने के निर्देश के साथ-साथ नक्सलियों में कोरोना संक्रमण फैलने से 12 नक्सलियों की मौत की बात पर्चे में लिखी हुई है। ग्राम सिलंगेर इलाके के ग्रामीणों ने बताया कि बीते दिनों से यहां हेलीकॉप्टर से पर्चा फेंका जा रहा है, जिसमें कोरोना वायरस से बचाव एवं कोरोना से नक्सलियों की मौत होने की बात लिखी हुई है। इलाके में ग्रामीणों ने दिखाया कि कौन सा पर्चा हेलीकॉप्टर से फेंका गया है। पर्चे में लिखा था, मास्क पहनकर चलो बार-बार साबुन से हाथ धोने सामाजिक दूरी का पालन करो। इसके साथ-साथ सबसे प्रमुख बात जो पर्चे में लिखी थी वह यह थी कि अब तक 12 नक्सलियों की मृत्यु कोरोना वायरस से हो चुकी है। अत: कोरोना संक्रमित नक्सलियों के संपर्क में आने से बचें नक्सलियों के बहकावे में ना आए। बस्तर आईजी सुदरराज पी. ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस के द्वारा हेलीकॉप्टर के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए पर्चे गांव-गांव में फेंके गए हैं। जारी पर्चे में कोरोना वायरस को लेकर एहतियात बरतने के निर्देश के साथ-साथ नक्सलियों में कोरोना संक्रमण फैलने से कोरोना संक्रमित नक्सलियों के संपर्क से दूरी बनये रखने की बात पर्चे में लिखी हुई है। हिन्दुस्थान समाचार/राकेश पांडे