विदेश यात्रा न कर पाने से निराश हैं लम्बी कूथ एथलीट श्रीशंकर

 विदेश यात्रा न कर पाने से निराश हैं लम्बी कूथ एथलीट श्रीशंकर
long-time-athlete-srishankar-is-disappointed-at-not-being-able-to-travel-abroad

नई दिल्ली, 22 मई (आईएएनएस)। टोक्यो ओलंपिक खेलों में लगभग दो महीने का समय बचा है। ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके पुरुषों की लंबी कूद में राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक मुरली श्रीशंकर ने महामारी के कारण अंतरराष्ट्रीय एक्सपोजर यात्राओं से चूकने पर निराशा व्यक्त की है। 22 वर्षीय एथलीट ने शनिवार को ऑनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कहा, मैंने मार्च में ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। अपने प्रतिस्पर्धी कौशल को चमकाने के लिए, मई में 2-3 अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने की योजना थी, लेकिन मैं यात्रा प्रतिबंधों के कारण विदेश यात्रा नहीं कर सका। इससे मेरी तैयारी बुरी तरह प्रभावित हो रही है। इससे पहले मार्च में, पटियाला में फेडरेशन कप एथलेटिक्स चैंपियनशिप के दौरान, श्रीशंकर ने अपने राष्ट्रीय रिकॉर्ड को 8.26 मीटर तक सुधार लिया था जो कि 8.22 मीटर के टोक्यो ओलंपिक क्वालीफिकेशन मार्क से बेहतर था। उनका पिछला रिकॉर्ड 2018 में 8.20 मीटर था। श्रीशंकर ने महामारी के कारण अपने अंतरराष्ट्रीय एक्सपोजर टूर को संशोधित किया है। उन्होंने कहा, मैंने यूरोप में प्रतिस्पर्धा करने की योजना बनाई है, लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो दूसरा विकल्प एशियाई स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ट में भाग लेना होगा। कजाकिस्तान और किर्गिस्तान दो देश हैं जहां मैं जून में जाने की योजना बना रहा हूं। पलक्कड़ स्थित अंतरराष्ट्रीय जम्पर ने कहा कि अगर आने वाले दिनों में संकट गहराता है और वह एशियाई स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ट के लिए नहीं जा पाते है, तो आखिरी विकल्प जून में घरेलू प्रतियोगिता में भाग लेना होगा। --आईएएनएस जेएनएस

अन्य खबरें

No stories found.