डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत के तेज गेंदबाजों का पलड़ा भारी होगा : नेहरा

 डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत के तेज गेंदबाजों का पलड़ा भारी होगा : नेहरा
india39s-fast-bowlers-will-have-heavy-upper-hand-in-wtc-final-nehra

नई दिल्ली, 22 मई (आईएएनएस)। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने कहा कि भारत के तेज गेंदबाजों की सपाट पिचों पर भी अच्छी गेंदबाजी करने की क्षमता उन्हें अगले महीने साउथेम्प्टन में होने वाली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल में बढ़त दिलाएगी। 17 टेस्ट और 120 एकदिवसीय मैच खेलने वाले नेहरा ने द टेलीग्राफ को बताया कि भारत और न्यूजीलैंड दोनों के पास बहुत अच्छे तेज गेंदबाज हैं। लेकिन अगर आप हमारे गेंदबाजों, बुमराह और शमी को देखें, तो वे सपाट डेक (पिच) पर भी अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं। सिर्फ बुमराह और शमी ही नहीं, यहां तक कि ईशांत भी हैं। और उनके पास तो 100 टेस्ट का अनुभव है तथा इसे देखते हुए तो भारतीय गेंदबाजों की बल्ले-बल्ले होगी। डब्ल्यूटीसी फाइनल 18-22 जून को होगा। इसके लिए 4000 दर्शकों को स्टेडियम में प्रवेश की अनुमति दी गई है। बाएं हाथ के पूर्व तेज गेंदबाज ने महसूस किया कि भारत को स्पिनरों आर. अश्विन और रवींद्र जडेजा को भी मैदान में उतारना चाहिए क्योंकि इससे आक्रमण को बल मिलेगा, साथ ही बल्लेबाजी भी मजबूत होगी। नेहरा ने कहा, यदि आप एक घासवाली विकेट पर खेलतेहैं तो आप निश्चित रूप से एक अतिरिक्त तेज गेंदबाज को शामिल करने के बारे में सोच सकते हैं, जो मुझे लगता है कि मोहम्मद सिराज होना चाहिए, क्योंकि वह शानदार गेंदबाजी कर रहा है। लेकिन अन्यथा, मुझे लगता है कि गेंदबाजी आक्रमण ईशांत, बुमराह और शमी होना चाहिए। तीन तेज गेंदबाजों के अलावा अश्विन और जडेजा के रूप में स्पिनर भी होने चाहिए। --आईएएनएस जेएनएस