भारत-ऑस्ट्रेलिया महिला सीरीज को एक स्थायी ट्रॉफी की जरूरत

 भारत-ऑस्ट्रेलिया महिला सीरीज को एक स्थायी ट्रॉफी की जरूरत
india-australia-women39s-series-needs-a-permanent-trophy

सिडनी, 22 मई (आईएएनएस)। ऑस्ट्रेलिया की पूर्व महिला क्रिकेटर मेल जोन्स ने कहा कि भारत और ऑस्ट्रेलिया की महिला क्रिकेट टीमों के बीच होने वाली सीरीज के लिए पिछली महिला क्रिकेटरों के नाम पर एक स्थायी ट्रॉफी होनी चाहिए, जैसे कि पुरुषों की सीरीज में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी होती है। आईसीसी की महिला समिति की सदस्य जोंस ने कहा, बॉर्डर-गावस्कर ट्राफी जैसा कुछ होना निश्चित रूप से बहुत अच्छा है लेकिन अतीत में जो हुआ है, वह पुरुषों के लिए है। इसलिए हमें इसे महिलाओं के खेल के लिए अपने तरीके से करना चाहिए, और शायद हम कुछ अलग कर सकते हैं। हमें महिला सीरीज के लिए अलग ट्राफी की जरूरत है, जिसका नामकरण पूर्व महिला खिलाड़ियों पर होना चाहिए। भारत और ऑस्ट्रेलिया की महिलाओं ने अपना पहला टेस्ट 1977 में पर्थ में खेला था जिसमें मेजबान टीम ने 147 रन से जीत हासिल की थी। अगले 44 वर्षों में, टीमों ने आठ और टेस्ट खेले हैं। कुल मिलाकर, ऑस्ट्रेलियाई और भारतीयों ने नौ टेस्ट खेले हैं, जिसमें ऑस्ट्रेलिया 4-0 से आगे है। पांच मैच ड्रॉ के रूप में समाप्त हुए हैं। भारत सितंबर-अक्टूबर में पर्थ में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकमात्र टेस्ट खेलेगा। यह दोनों टीमों के बीच पहली डे-नाइट टेस्ट होगा। जोन्स को लगता है कि दोनों देशों के बीच क्रिकेट के इतिहास को स्वीकार करने की जरूरत है। --आईएएनएस जेएनएस