आर्चर के जैव-सुरक्षित वातावरण का उल्लंघन करना बोर्ड के लिए हो सकता है आपदा: एश्ले जाइल्स
आर्चर के जैव-सुरक्षित वातावरण का उल्लंघन करना बोर्ड के लिए हो सकता है आपदा: एश्ले जाइल्स
स्पोर्ट्स

आर्चर के जैव-सुरक्षित वातावरण का उल्लंघन करना बोर्ड के लिए हो सकता है आपदा: एश्ले जाइल्स

news

लंदन, 17 जुलाई (हि. स.)। इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के क्रिकेट निदेशक एश्ले जाइल्स ने कहा कि जोफ्रा आर्चर के जैव-सुरक्षित प्रोटोकॉल का उल्लंघन करना बोर्ड के लिए एक बड़ी "आपदा" हो सकता है, और इसके चलते बोर्ड को लाखों पाउंड का नुकसान भी हो सकता है। जैव-सुरक्षित प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के बाद ईसीबी ने आर्चर को दूसरे टेस्ट के शुरू होने से कुछ ही घंटे पहले टीम से बाहर कर दिया था। हालांकि, ईसीबी ने यह नहीं बताया है कि आर्चर ने किस प्रकार प्रोटोकॉल का उल्लघंन किया, मगर मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक आर्चर साउथैंपटन में पहले टेस्ट के बाद जैव - सुरक्षित वातावरण से निकलकर ब्राइटन में अपने फ्लैट पर चले गए थे। जाइल्स ने कहा, "यह एक आपदा हो सकती है। गर्मियों के पूरे सत्र में हमारे लाखों पाउंड खर्च हो सकते हैं। " उन्होंने कहा, "वह एक नौजवान आदमी है, और नौजवानों से गलतियां हो जाती हैं। उसे उन गलतियों से सीखना होगा।" आर्चर पहले ही अपनी गलती की माफी मांग चुके हैं, और अब उन्हें पांच दिन के अलगाव और दो कोविड टेस्टों से गुजरना होगा। इस पर इंग्लैंड के कोच क्रिस सिल्वरवुड ने कहा कि आर्चर को सबका भरपूर समर्थन मिलेगा। सिल्वरवुड ने कहा, "वह जानता है उसने क्या किया है और हम उसे पूरा समर्थन देंगे, जोकि हम कर सकते हैं। "वह अब पांच दिनों के लिए एक होटल के कमरे में फंस गया है, तो हमें यह सुनिश्चित करना है कि हम उसकी देखभाल कर रहे हैं।" हिन्दुस्थान समाचार/दीपेश शर्मा-hindusthansamachar.in