24 आवर्स ऑफ ले मेंस सीरीज को ध्यान में रखकर स्टार खिलाड़ियों से लैस भारतीय टीम तैयार
24 आवर्स ऑफ ले मेंस सीरीज को ध्यान में रखकर स्टार खिलाड़ियों से लैस भारतीय टीम तैयार
स्पोर्ट्स

24 आवर्स ऑफ ले मेंस सीरीज को ध्यान में रखकर स्टार खिलाड़ियों से लैस भारतीय टीम तैयार

news

मुम्बई, 23 दिसंबर (हि.स.) । नारायण कार्तिकेयन, अर्जन मैनी और नवीन राव को लेकर बनी रेसिंग टीम इंडिया अगले साल फरवरी में होने वाली 2021 एशियन ले मेंस सीरीज में हिस्सा लेगी। इस टीम का गठन अगले साल ही फ्रांस में होने वाले 24 आवर्स ले मैंस आयोजन को ध्यान मे रखते हुए किया गया है। टीम द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक रेसिंग टीम इंडिया वैश्विक स्तर पर होने वाली इस इंड्योरेंस रेस में हिस्सा लेने वाली पहली ऑल इंडियन टीम होगी और इस लिहाज से यह एक नया कीर्तिमान स्थापित करेगी। एशियन ले मैंस सीरीज का आयोजन 5-6 फरवरी और 19-20 फरवरी को अबू धाबी के यास मैरिना सर्किट पर होगा। इसके तहत दो रेस वीकेंड के दौरान चार रेसों का आयोजन होगा। हर रेस चार घंटे की होगी। भारतीय टीम एलएमपी2 कटेगरी में ओरेका 07 कार की सवारी करेगी। इस टीम को टेक्नीकल सपोर्ट चैम्पियनशिप जीतने वाली अलग्रेव प्रो रेसिंग टीम से मिलेगा। पद्मश्री अवार्डी और भारत के पहले फार्मूला वन चालक नारायण ले मैंस में एक बार फिर कार चलाने की सम्भावना को लेकर उस्ताहित दिखे। नारायण ने कहा, ‘‘मैं बीते कुछ सालों से ले मैंस पर वापस जाने का सपना देख रहा था। यह मेरे रेसिंग करियर का सम्भवत: सबसे रोमांचक प्रोजेक्ट है। हमारी टीम युवा और प्रतिभाशाली है और इसमें कोई शक नहीं कि हमारी कड़ी परीक्षा होगी लेकिन मैं अच्छा करने को लेकर आश्वस्त हूं।’’ फेडरेशन ऑफ इंटरनेशनल दे ऑटोमोबाइल (एफआईए) वर्ल्ड मोटर स्पोर्ट काउंसिल के सदस्य गौतम सिंघानिया, जो कि खुद भी एक माहिर चालक हैं, रेसिंग टीम इंडिया की अगुवाई करेंगे। इंड्योरेंस रेसिंग में बेंगलोर के निवासी अर्जुन मैनी का अनुभव भारतीय टीम के लिए काफी उपयोगी साबित होगा। वह अलग्रेब प्रो रेसिंग टीम के लिए 2020 यूरोपीयन ले मैंस सीरीज (ईएलएमएस) में शिरकत कर चुके हैं। अर्जुन मैनी अच्छी तरह जानते हैं कि इस तरह के आयोजन में क्या करना होता है और इसमें फोकस एरिया क्या होना चाहिए। अर्जुन ने कहा, ‘‘2020 यूरोपीयन ले मैंस सीजन के तुरंत बाद रेसिंग में वापसी करके मैं खुश हूं। मैं मानता हूं कि अलग्रेव प्रो रेसिंग टीम, जो कि एशियन ले मैंस सीरीज की डिफेंडिंग चैम्पियन है, हमें 24 आवर ऑफ रे मैंस रेस के लिए क्वालीफाई करने हेतु हर जरूरी सहायता मुहैया कराएगी।’’ इस टीम में शामिल नवीन राव मौजूदा 2020 आईएमएसए प्रोटोटाइप चैलेंज चैम्पियन हैं और वह भी रेसिंग टीम इंडिया का हिस्सा बनकर काफी खुश हैं। नवीन ने कहा, ‘‘मैं इस रेस के लिए अत्यधिक रोमांचित हूं। नारायण कार्तिकेयन और अर्जुन मैनी जैसे चालकों की टीम मे होना गर्व की बात है। ले मैंस में एक जादुई आकर्षण है और रेसिंग की चाह रखने वाला हर बच्चा वहां हिस्सा लेना चाहता है।’’ एशियन ले मैंस सीरीज के सीईओ क्रिल टेस वाहलेन ने इस सीरीज में भारतीय टीम का स्वागत करते हुए कहा, ‘‘एलएमपी2 में भारतीय टीम का आना एशियन ले मैंस सीरीज के लिए नया अध्याय है। साथ ही यह दुनिया भर में एसीओ के लिहाज से भी पहला मौका है। भारत में हमारे समर्थकों की संख्या में इजाफा हो रहा है और अब भारत की अपनी टीम है और इस टीम के सपोर्टर भी हैं। मैं इस टीम को शुभकामनाएं देता हूं और अबू धाबी में इन्हें अच्छा करते हुए देखना चाहता हूं।’’ रेसिंग टीम इंडिया के इस पहले अभियान को जेके टायर का गौरवपूर्ण साथ मिला है। जेके टायर बीते 50 साल से भारतीय मोटरस्पोटर्स का सबसे बड़ा सपोर्टर रहा है। बीते दो दशक में जेके टायर ने नारायण कार्तिकेयन और अर्जुन मैनी के विकास में काफी सहयोग किया है। अब जेके टायर ने रेसिंग टीम इंडिया को अपना साथ देते हुए इस खेल के भारत में विकास में अग्रणी भूमिका निभाने की अपनी प्रतिबद्धता को एक बार फिर दोहराया है। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील-hindusthansamachar.in