मॉरिस ने डीविलियर्स को नीचे भेजने के फैसले का किया बचाव
मॉरिस ने डीविलियर्स को नीचे भेजने के फैसले का किया बचाव
स्पोर्ट्स

मॉरिस ने डीविलियर्स को नीचे भेजने के फैसले का किया बचाव

news

शारजाह,16 अक्टूबर (हि.स.)। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 31वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) को 8 विकेट से हरा दिया। इस मुकाबले में आरसीबी ने एबी डीविलियर्स को बल्लेबाजी क्रम में नीचे उतारा। डीविलियर्स से पहले वाशिंगटन सुंदर और शिवम दुबे जैसे बल्लेबाजों को प्रमोट किया गया। आरसीबी के इस फैसले से हर कोई हैरान था। आरसीबी के तेज गेंदबाज क्रिस मॉरिस ने इस फैसले का बचाव करते हुए कहा कि आरसीबी की यह रणनीति बाएं हाथ के बल्लेबाजों को भेजकर किंग्स इलेवन पंजाब के लेग स्पिनर्स पर दबाव लाना था। मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में क्रिस मॉरिस ने कहा,"आरसीबी की रणनीति ये थी कि बाएं हाथ के बल्लेबाजों को भेजकर किंग्स इलेवन पंजाब के लेग स्पिनर्स को दबाव में लाया जाए। इसके अलावा जब मैदान में लेफ्ट-राइट का कॉम्बिनेशन होता है तो फिर गेंदबाजों को दिक्कतें आती हैं।" उन्होंने कहा "ये उनके लेग स्पिनर्स को काउंटर करने के लिए और लेफ्ट-राइट का कॉम्बिनेशन बनाए रखने के लिए था। जब क्रीज पर एक बाएं हाथ का और दूसरा दाएं हाथ का बल्लेबाज होता है तो फिर गेंदबाज अपनी लाइन-लेंथ नहीं पकड़ पाता है। हमने देखा कि जब के एल राहुल और क्रिस गेल बैटिंग कर रहे थे तो हमें गेंदबाजी में दिक्कतें हो रही थीं। कभी-कभी ऐसे फैसले आपके हक में जाते हैं तो कभी इसका उल्टा हो जाता है।" आरसीबी ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 171 रन बनाए। जवाब में पंजाब ने 20 ओवरों में 2 विकेट के नुकसान पर 177 रन बनाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। कोहली ने अपने 200वें मैच में 48 रनों की नाबाद पारी खेली। पंजाब की तरफ से केएल राहुल 61 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि क्रिस गेल ने 53 और मयंक अग्रवाल ने 45 रन बनाए। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील-hindusthansamachar.in