पीएसएल : इमाद वसीम ने कराची किंग्स के खिताबी जीत में दिवंगत डीन जोन्स के योगदान की सराहना की
पीएसएल : इमाद वसीम ने कराची किंग्स के खिताबी जीत में दिवंगत डीन जोन्स के योगदान की सराहना की
स्पोर्ट्स

पीएसएल : इमाद वसीम ने कराची किंग्स के खिताबी जीत में दिवंगत डीन जोन्स के योगदान की सराहना की

news

कराची, 18 नवंबर (हि.स.)। पहली बार पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) का खिताब जीतने के बाद कराची किंग्स के कप्तान इमाद वसीम ने खिताबी जीत में दिवंगत डीन जोन्स के योगदान की सराहना की। कराची किंग्स ने फाइनल में मंगलवार को लाहौर कलंदर्स को पांच विकेट से हराकर अपना पहला पीएसएल खिताब जीता। कराची के लिए बाबर आज़म ने 63 रनों की नाबाद पारी खेली और उन्हें प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट चुना गया। जीत के बाद वसीम ने कहा, "खिताबी जीत का श्रेय निश्चित रूप से दिवंगत डीन जोन्स को जाता है। उन्होंने हमें जो सिखाया है, दुनिया में बहुत कम कोच कर सकते हैं। वसीम अकरम, निश्चित रूप से ट्रॉफी के हकदार हैं, क्योंकि वह हमारे गेंदबाजी कोच और मुख्य कोच हैं। इस फ्रैंचाइज़ी की कप्तानी करना एक सम्मान की बात है।" बता दें कि इस साल की शुरुआत में, डीन जोन्स का मुंबई में 59 साल की उम्र में कार्डियक अरेस्ट के कारण निधन हो गया था, जहां वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के लिए एक प्रसारक के रूप में काम कर रहे थे। मार्च में पीएसएल के पांचवें संस्करण से पहले जोन्स को कराची किंग्स कोच के रूप में नियुक्त किया गया था। टीम ने तब प्लेऑफ़ में जगह बना ली थी लेकिन कोरोना महामारी के कारण प्लेऑफ के मुकाबलों को स्थगित करना पड़ा। फाइनल में टीम के प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए, वसीम ने कहा, "जिस तरह से गेंदबाजों ने गेंदबाजी की वह शानदार थी। हमने पिच को कुछ हद तक गलत समझा, क्योंकि हम पहले बल्लेबाजी भी करना चाहते थे। उछाल सही नहीं था, और इसलिए हमने अपनी गति को अलग किया। मुझे लगता है कि हमारे गेंदबाजों ने अपनी योजनाओं को पूरी तरह से निभाया।" उन्होंने आगे कहा,"हमें पता था कि अगर बाबर लय में आ गए तो हम अपनी योजनाओं पर प्रभावी तरीके से काम कर सकते हैं और ऐसा ही हुआ।" हिन्दुस्थान समाचार/सुनील-hindusthansamachar.in