ट्रेल अल्ट्रा रन मैराथन में नैनीताल के तीन धावक छाये
ट्रेल अल्ट्रा रन मैराथन में नैनीताल के तीन धावक छाये
स्पोर्ट्स

ट्रेल अल्ट्रा रन मैराथन में नैनीताल के तीन धावक छाये

news

नैनीताल, 22 नवम्बर (हि.स.)। जिला मुख्यालय के पास शनिवार को हाल ही चलन में आई 10, 30 व 50 किलोमीटर की ट्रेल अल्ट्रा रन मैराथन दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। अंतरराष्ट्रीय संस्था आईटीआरए यानी अंतरराष्ट्रीय ट्रेल रनर एसोसिएशन से प्रमाणित इस दौड़ प्रतियोगिता में देश के नामचीन अंतरराष्ट्रीय धावकों ने भाग लिया। उत्तरवाहिनी शिप्रा नदी के किनारे समुद्र सतह से करीब 200 मीटर की ऊंचाई पर स्थित रातीघाट से नैनीताल की बिड़ला चुंगी होते हुए नगर की सबसे ऊंची 2610 मीटर ऊंचाई पर स्थित नैना पीक चोटी तक ऊंची-नीची पगडंडियों पर चढ़ते-उतरते आयोजित देश की इस मैराथन से भी अधिक कठिनतम दौड़ में खास बात यह भी रही कि नैनीताल के तीन धावकों एकेश तिवारी, मणिकांत साह और सुमित साह ने न केवल प्रतिभाग किया, बल्कि उल्लेखनीय स्थान भी प्राप्त किया। अल्ट्रा वॉरियर नैनीताल नाम की इस स्पर्धा में एकेश तिवारी ने 30 किलोमीटर की दौड़ में छठा व मणिकांत साह ने 7वां और उत्तराखंड के पहले अल्ट्रा रनर सुमित साह ने 50 किलोमीटर की दौड़ में छठा स्थान हासिल किया। यह दौड़ रातीघाट-भवाली के बीच दूलीखाल स्थित चौखम्बा कैंप्स से शुरू हुई। प्रतियोगिता में सुमित साह ने 50 किलोमीटर की दौड़ मात्र 6 घंटे 17 मिनट, एकेश तिवारी ने 30 किलोमीटर की दौड़ 4 घंटे 16 मिनट 17 सेकेंड, मणिकांत साह ने 30 किलोमीटर की दौड 4 घंटे 16 मिनट 20 सेकेंड में पूरी की। गौरतलब है कि इस प्रतियोगिता में दौड़ने की बात तो दूर चलना भी मुश्किल था। 50 किलोमीटर की स्पर्धा में 15 पेशेवर दूलीखाल से बिड़ला चुंगी, नैना पीक होते हुए वापस बिड़ला चुंगी से दूलीखाल पहुंचे, यहां से रातीघाट गए और वापस दूलीखाल आए तथा यहां से भवाली सैनिटोरियाल गए और वापस दूलीखाल लौटकर दौड़ पूरी की। वहीं 30 किलोमीटर की दौड़ में 13 पेशेवर धावक दूलीखाल से रातीघाट जाकर वापस दूलीखाल लौटे और यहां से भवाली सैनिटोरियम जाकर वापस दूलीखाल पहुंचकर दौड़ पूरी की। अलबत्ता धावक इस बात को लेकर नाखुश दिखे कि 3500 रुपये तक फीस ली गई और इतनी कठिन दौड़ जीतने पर ईनाम में नकद राशि नहीं दी गई। केवल अंक दिए जो अन्य प्रतियोगिताओं में उनकी वरीयता बढ़ाने में काम आएंगे। हिन्दुस्थान समाचार/नवीन जोशी/मुकुंद-hindusthansamachar.in