क्वारंटीन डायरी : शेफाली शाह ने जीवन की छोटी खुशियों पर लिखी कविता
news

क्वारंटीन डायरी : शेफाली शाह ने जीवन की छोटी खुशियों पर लिखी कविता

news

नई दिल्ली : शेफाली शाह बेहतरीन और बहुमुखी अभिनेत्रियों में से एक हैं। चाहे सत्या से प्यारी की बात हो या वक्त से सुमित्रा ठाकुर या दिल धड़कने दो से नीलम मेहरा की परफॉर्मेंस, उनकी ऑनस्क्रीन प्रतिभा बेमिसाल रहीं है। अभिनेत्री ने जीवन की छोटी खुशियों पर एक कविता लिखी है। उनकी सबसे प्रभावशाली परियोजनाओं में जूस, वन्स अगेन और द लास्ट लेयर शामिल हैं, जिसने उन्हें एक राष्ट्रीय पुरस्कार भी दिलाया और उनके दमदार वेब शो, दिल्ली क्राइम को कैसे भूल सकते हैं, जिसमें उन्होंने एक शानदार पुलिस वाले की भूमिका निभाई है। शेफाली के पास सचमुच उस तरह की गंभीरता और बहुमुखी प्रतिभा है, जो हमें उनकी परफॉर्मेंस के साथ बांधे रखती है। शेफाली के पास कॉमेडी, भावनात्मक और नाटकीय भूमिकाएं निभाने की सीमा है और इसी के साथ वह अपने करियर में सफलता का स्वाद चख चुकी हैं। यह कहते हुए, जब पूरे देश में लॉकडाउन है, अभिनेत्री जो जीवन की छोटी-छोटी खुशियां और रोजमर्रा के कामों को याद कर रही हैं, उन्होंने एक सुंदर कविता लिखी है, जिसमें जीवन के छोटे-छोटे सुखों पर जोर दिया गया है। उन्होंने लिखा, चलो ना यार फिर वहीं जीते हैं।-doonhorizon.inEntertainmentBollywoodfeed.xml