सितम्बर में हो सकते हैं विधानसभा उपचुनाव, चुनाव आयोग ने शुरू की तैयारी
सितम्बर में हो सकते हैं विधानसभा उपचुनाव, चुनाव आयोग ने शुरू की तैयारी
news

सितम्बर में हो सकते हैं विधानसभा उपचुनाव, चुनाव आयोग ने शुरू की तैयारी

news

भोपाल, 16 जून (हि.स.)। मध्य प्रदेश में 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव सितम्बर माह मेंं हो सकते हैं। हालांकि अभी चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि सितम्बर में उपचुनाव संपन्न हो सकते हैं। इसके लिए चुनाव आयोग ने तैयारी शुरू कर दी हैं। आयोग की तरफ से उपचुनाव में उपयोग होने वाली मतदाता सूची के पुन: निरीक्षण का काम शुरू हो गया है। उपचुनाव को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं। प्रदेश में 24 विस सीटों पर उपचुनाव होने हैं, जिसमें से 22 सीटें कांग्रेस के 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद रिक्त हुई है। जबकि 2 सीटें सदस्यों की मौत के बाद रिक्त हुई है। रिक्त हुई सीटों पर चुनाव छह माह में संपन्न कराने होते है, लेकिन कोरोना और लॉकडाउन के कारण उपचुनाव में देरी हो गई। कांग्रेस के पूर्व 22 विधायकों के इस्तीफे स्वीकार कर विधानसभा ने रिक्त सीटों की जानकारी चुनाव आयोग को भेजी थी, इसके बाद इन सीटों को रिक्त घोषित कर दिया गया था, अब वहां 6 महीने के अंदर यानी 10 सितम्बर के पहले चुनाव कराया जाना है। इसी प्रकार सदस्यों की मौत से रिक्त हुई दो अन्य सीटों जौरा पर 20 जून तक और आगर मालवा का चुनाव 15 जुलाई तक चुनाव कराया जाना है। जौरा सीट पर उप चुनाव आगे बढ़ाए जाने पर आयोग धारा 151 के तहत नोटिफिकेशन जारी कर चुका है। इसी तरह आगर-मालवा सीट पर चुनाव कराए जाने की तारीख भी आगे बढ़ाए जाने पर विचार किया जा रहा है। इसीलिए इन दोनों सीटों पर भी 22 विधानसभा सीटों के साथ चुनाव कराए जा सकते हैं। इन सीटों पर होगा उपचुनाव प्रदेश की जिन 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले है उनमें: सुमावली, मुरैना, दिमनी, अम्बाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भांडेर, करेरा, पोहरी, बामोरी, अशोकनगर, मुंगावली, सुरखी, सांची, अनूपपुर, सांवेर, हाटपिपल्या, सुवासरा, बदनावर समेत जौरा और आगर मालवा विधानसभा शामिल है। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय-hindusthansamachar.in