सड़क निर्माण, मुख्य मंत्री पर जनता को गुमराह करने का लगा आरोप

सड़क निर्माण, मुख्य मंत्री पर जनता को गुमराह करने का लगा आरोप
road-construction-chief-minister-accused-of-misleading-public

इटानगर, 07 अप्रैल (हि.स)। अरुणाचल प्रदेश यंग जेनरेशन सोशियो कल्चरल एंड एजुकेशनल सोसाइटी ने आरोप लगाया कि अरुणाचल प्रदेश के मुख्य मंत्री पेमा खांडू ने चंद्रनगर से पापु नाला तक पैकेज-ए के राष्ट्रीय राज्यमार्ग-415 के निर्माण के संबंध में जनता को गुमराह कर रहे हैं। सोसाइटी ने कहा, हमने देखा है कि गत 31 मार्च, 2021 को मुख्यमत्री खांडू ने एनएच-415 पैकेज-ए के पूर्ण होने संबंधी रिपोर्ट की एक वीडियो जारी किया है, लेकिन वास्तव में एनएच-415 का कार्य अभी तक समाप्त नहीं हुआ है। साथ ही कहा कि सूचनाएं यह भी मिली हैं कि निर्माण कार्य राष्ट्रीय गाइड लाइन के अनुसार ठीक से निष्पादित नहीं किया गया है। ये बातें बुधवार को सोसाइटी के अध्यक्ष राज पाओ ने अरुणाचल प्रेस क्लब में मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि राजमार्ग और सड़क के कुछ सबसे महत्वपूर्ण घटक गायब हैं और इसका निर्माण नहीं किया गया है। उन्होंने दावा किया कि पैकेज-ए के अंदर परियोजना में सात पुलिया का पुनर्निर्माण नहीं किया गया है, जो खराब स्थिति में हैं। ये पुलिया आगामी मानसून में ढह सकती हैं। सड़क किनारे बस शेल्टर, फुटपाथ आदि का निर्माण नहीं हुआ है। दिशा निर्देशों के अनुसार पक्के कार्यों का ठीक से निष्पादन नहीं किया गया है उन्होंने कहा, ड्रेनेज सिस्टम का निर्माण भी सही तरीके से नहीं किया गया है। डीपीआर की गाइड लाइन और क्रैश बैरियर, रोड शेम्प, क्रॉस, बॉर्डर कंट्रोल जैसे अन्य कंपोनेंट भी गायब हैं। ऐसे में उन्होंने कहा, मुख्य मंत्री सड़क के पूरा होने की रिपोर्ट कैसे दे सकते हैं? सोसाइटी ने राज्य सरकार से मांग की कि वह इस परियोजना के 99.70 करोड़ मुआवजे सहित एनएच-415 के परियोजना की संरचना और संरचना डिजाइन पर एक विशेषज्ञ समिति का गठन कर जांच कराए। उन्होंने बताया कि गत 12 फरवरी, 2021 को हमने प्रधान मंत्री को ट्रांस अरुणाचल राजमार्ग के मुद्दे और इटानगर स्मार्ट सिटी परियोजना के बारे में एक दस्तावेज और वीडियो भेजा है। हमारी शिकायतों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पीएमओ ने चिंता जाहिर करते हुए कार्रवाई के लिए विभाग से कहा है। लेकिन, दुर्भाग्य से विभाग पीएमओ को जवाब नहीं दे रहा है। उन्होंने बताया कि आगले 20 अप्रैल को सोसाइटी मुख्यमंत्री खांडू द्वारा गुमराह करने और संबंधित विभाग द्वारा पीएमओ के निर्देश पर कार्रवाई नहीं करने के खिलाफ राजधानी क्षेत्र में एक रैली निकालेंगे। हिन्दुस्थान समाचार /तागू/ अरविंद