राजस्थान : कांग्रेस से वेणुगोपाल व डांगी तो भाजपा से गहलोत पहुंचे राज्यसभा
राजस्थान : कांग्रेस से वेणुगोपाल व डांगी तो भाजपा से गहलोत पहुंचे राज्यसभा
news

राजस्थान : कांग्रेस से वेणुगोपाल व डांगी तो भाजपा से गहलोत पहुंचे राज्यसभा

news

जयपुर, 19 जून (हि.स.)। राजस्थान की तीन राज्यसभा सीटों के द्विवार्षिक चुनाव शुक्रवार को सम्पन्न हुए। तीन सीटों के लिए चार उम्मीदवार मैदान में थे। कांग्रेस के केसी वेणुगोपाल व निरज डांगी और भाजपा के राजेन्द्र गहलोत राज्यसभा के लिए निर्वाचित हुए हैं। 200 सदस्यों वाली विधानसभा में 198 विधायकों ने मतदान किया। जबकि दो विधायक स्वास्थ्य कारणों से मतदान में शामिल नहीं हो पाए। कांग्रेस के नव निर्वाचित सांसदों वेणुगोपाल व डांगी को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और भाजपा के निर्वाचित राज्यसभा सांसद गहलोत को पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शुभकामनाएं दी। हालांकि निर्वाचन विभाग ने समाचार लिखे जाने नतीजे घोषित नहीं किए थे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बधाई देते हुए कहा कि यह कांग्रेस चेयरपर्सन सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी की विचारधारा, नीतियों और कार्यक्रमों की जीत है। अन्य दलों के सभी विधायकों और निर्दलीय विधायकों को मेरी बधाई, जिन्होंने हमारे उम्मीदवारों के लिए मतदान किया। सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल तथा डूंगरगढ़ से सीपीएम विधायक गिरधारीलाल माहिया अस्वस्थ होने के कारण वोट नहीं दे सके। चुनाव में पहला वोट भाजपा का तो अंतिम वोट कांग्रेस का रहा। कांग्रेस की ओर से सबसे पहला वोट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने डाला। कांग्रेस के विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ छह बसों से विधानसभा पहुंचे। विधानसभा पहुंचने पर सभी की स्क्रीनिंग की गई। सीतापुरा स्थित एक होटल में बाड़ा बंदी में रह रहे भाजपा के विधायक दो बसों में सवार होकर विधानसभा पहुंचे। यहां प्रवेश से लेकर निकासी तक कोरोना संबंधी पूरे प्रोटोकॉल की पालना की गई। विधायकों ने अपनी पार्टी के पोलिंग एजेंटों को दिखाकर वोट डाला। यह नियम निर्दलीय विधायकों पर लागू नहीं था। राजस्थान से राज्यसभा के लिए चुने गए केसी वेणुगोपाल दो बार लोकसभा सांसद रह चुके हैं। अभी पार्टी महासचिव के पद पर कार्यरत है। वे यूपीए सरकार में नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री रह चुके हैं। दूसरे सांसद नीरज डांगी राज्य विधानसभा का तीन बार चुनाव लड़ चुके हैं। डांगी अभी कांग्रेस महासचिव के पद पर कार्यरत हैं। भाजपा उम्मीदवार राजेंद्र गहलोत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह नगर जोधपुर से आते हैं। वे राजस्थान में मंत्री रह चुके हैं। वाजिब अली के खिलाफ मामला दर्ज राज्यसभा चुनाव की वोटिंग में तब खलल पड़ गया जब नगर से कांग्रेस विधायक वाजिब अली के वोट को लेकर भाजपा ने आपत्ति दर्ज करा दी। वाजिब अली आस्ट्रेलिया से लौटे थे और सीधे वोट डालने विधानसभा पहुंच गए। वोट डालने के लिए विधायकों की लाइन में भी लग गए थे। वोटिंग कक्ष में पहुंच गए और हस्ताक्षर कर बैलेट पेपर भी ले लिया था। वहां मौजूद भाजपा सदस्यों ने उनके वोट डालने को लेकर आपत्ति जता दी। भाजपा के राजेंद्र राठौड़ की आपत्ति पर वाजिब अली को लाइन से हटाकर कोरोना टेस्ट करवाया गया। उन्होंने पीपीई किट पहनकर वोट डाला। अली के खिलाफ सुरेंद्र सिंह नरूका ने ज्योति नगर थाने में महामारी एक्ट के उल्लंघन को लेकर शिकायत दर्ज कराई है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर-hindusthansamachar.in