कौन-कहता-है-कि-किसान-रेस्तरां-के-मालिक-नहीं-हो-सकते |Rajasthan Sikar Chala News किसान रेस्तरां मालिक Hindi Latest News 


बड़ी खबरें

कौन कहता है कि किसान रेस्तरां के मालिक नहीं हो सकते?

कौन कहता है कि किसान रेस्तरां के मालिक नहीं हो सकते?

जरा कल्पना कीजिए एक मेहमान खाने के एक छोटे-से ठिकाने पर जाता है और लंच के लिए ग्रीन बीन्स का चुनाव करता है। सरल से व्यक्तित्व वाला व साफ-सुथरे वस्त्र पहना मालिक कहता है ‘आइए आपके लंच के लिए ग्रीन बीन्स तोड़ते हैं।’ फिर दोनों खेत में जाते हैं चुनी हुई सब्जी तोड़ते हैं। खेत में गुजरते हुए मेहमान को अपने सामने लटकती अच्छे किस्म की सुरजना फली (ड्रम स्टिक्स) ललचाने लगती हैं। रेस्तरां मालिक एक और डिश का सुझाव देता है। मेहमान राजी हो जाते हैं तो मालिक हंसिए से कुछ फलियां काटता है। वे किचन में आते हैं जहां परम्परागत वस्त्र पहनी मालिक की प|ी अपनी युगों पुरानी ग्रामीण रेसिपी से क्षेत्रीय
www.bhaskar.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »