‘वीआईपी’-के-लिए-बिना-टेंडर-हुए-थे-काम |Rajasthan Nagaur ������������������ ��������������� ��������� Hindi Latest News  

बड़ी खबरें

‘वीआईपी’ के लिए बिना टेंडर हुए थे काम

‘वीआईपी’ के लिए बिना टेंडर हुए थे काम

जमीनों का विवाद है कारण वर्चस्व की लड़ाई में काम रुके नगरपरिषद के मौजूदा बोर्ड के कार्यकाल का एक साल ही हुआ है। इस बीच भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम ने छापा मारा। एसीबी की जांच जारी है। इस बीच भास्कर पड़ताल में सामने आया कि नगर परिषद ने वीआईपी के लिए जिस तरह नियम कायदे भूलाकर काम करवाए थे वे परेशानी का कारण बन गए हैं। चार मामलों में बिना वर्क ऑर्डर के काम के कारण परिषद संदेह के घेरे में हंै। करीब ऐसे 6 काम हुए है जिनमें से अनियमितताएं बरती गई। ये6 काम संदेह के घेरे में 1आरएसएसका राष्ट्रीय कार्यक्रम जब नागौर में था तब वीआईपी मूवमेंट को देखते हुए बिना टेंडर करोड़ों के काम करवाए गए
www.bhaskar.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2018. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.