raipur-mutual-cooperation-and-brotherhood-are-necessary-for-strengthening-the-society-chief-minister
raipur-mutual-cooperation-and-brotherhood-are-necessary-for-strengthening-the-society-chief-minister
news

रायपुर : समाज की मजबूती के लिए आपसी सहयोग और भाईचारा जरूरी : मुख्यमंत्री

news

मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के 75वें महाअधिवेशन में हुए शामिल रायपुर, 13 फरवरी (हि.स.)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शनिवार को विकासखंड तिल्दा के ग्राम अल्दा में आयोजित छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के 75वें दो दिवसीय महाधिवेशन में शामिल हुए। मुख्यमंत्री बघेल ने इस अवसर पर सम्बोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ कृषि प्रधान राज्य है और कुर्मी समाज कृषि क्षेत्र से मुख्यतः जुड़ा हुआ है। इस तरह छत्तीसगढ़ राज्य के विकास में मनवा कुर्मी समाज का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा कि समाज की एकता और मजबूती के लिए आपसी भाईचारा और सहयोग जरूरी है। समाज गंगा की तरह है और सभी के एक होने से समाज में सामाजिक समरसता का विकास होगा। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर तिल्दा सामाजिक भवन और मंगल भवन के लिए 20-20 लाख रुपये और अल्दा में उप स्वास्थ्य केंद्र बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हमारी सरकार सभी समाज के लोगों को साथ लेकर विकास की राह में आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि राज्य स्थापना के स्वप्न देखने वाले पुरखों ने छत्तीसगढ़ के विकास की कल्पना संजोए थे। सरकार उन सपनों को साकार करने का काम कर रही है और राज्य की सांस्कृतिक विरासत को भी सहेज रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में गोधन योजना से रोजगार और आय के नए स्रोत निकले हैं। अनेक लोग गोबर बेचकर और गोठन समिति के माध्यम से जैविक खाद बनाकर रोजगार के साथ-साथ लाभ भी कमा रहे हैं। महिला समूह आत्मनिर्भर बन रही है। प्रदेश में धान से एथेनॉल बनाने की दिशा में प्रोजेक्ट तैयार हो रहा है। इससे प्रदेश के लोगों के लिए नए रोजगार का सृजन होगा तथा लोगों के लिए आमदनी का जरिया बढ़ेगा और आत्मनिर्भर प्रदेश का निर्माण हो सकेगा। मनवा कुर्मी समाज के केन्द्रीय अध्यक्ष डॉ. रामकुमार सिरमौर ने कहा कि समाज में सभी लोग ऐसे महत्वपूर्ण कार्य करें, जो सभी समाज को एक दिशा देते हुए राज्य का सर्वांगीण विकास करें। समाज और परिवार में संस्कारों के लिए भी प्रयास और काम होना चाहिए। इससे आने वाली पीढ़ी अपनी सामाजिक सांस्कृतिक विरासत से परिचित होगी और विभिन्न सामाजिक कुरीतियों से भी छुटकारा मिलेगा। समाज के संस्कारवान होने से विशुद्ध रूप से समाज का सही मायने में विकास होगा। कार्यक्रम में राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर सफलता का परचम लहराने वाले सामाजिक प्रतिभावान बच्चों को सम्मानित किया गया। कुर्मी समाज के युवा संगठन द्वारा रक्त-दान शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में लगभग 70 से अधिक रक्तदान वीरों ने रक्तदान किया। इस अवसर पर आगमन, अस्मिता, छत्तीगसगढ़ के लोक खेल और औद्योगिक सुरक्षा पुस्तिका का विमोचन किया गया। इस अवसर पर खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन, कृषक कल्याण आयोग के अध्यक्ष सुरेंद्र शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष डोमेश्वरी वर्मा, ग्राम अल्दा के सरपंच केशर सहित समाज के पदाधिकारी बड़ी संख्या में सामाजिक बंधु उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/चंद्रनारायण शुक्ल-hindusthansamachar.in