raipur-emphasis-on-testing-and-vaccination-for-prevention-and-effective-control-of-corona-in-the-district
raipur-emphasis-on-testing-and-vaccination-for-prevention-and-effective-control-of-corona-in-the-district
news

रायपुर : जिले में कोरोना के रोकथाम और प्रभावी नियंत्रण के लिए टेस्टिंग और वैक्सिनेशन पर जोर

news

रायपुर, 03 अप्रैल (हि.स.)। रायपुर जिले में कोरोना के प्रभावी रोकथाम और नियंत्रण के लिए कोरोना टेस्टिंग और कोरोना वैक्सिनेशन पर व्यापकता से जोर दिया जा रहा है। दो अप्रैल को रायपुर जिले में चार हजार कोरोना सेम्पल टेस्टिंग के लक्ष्य के विरुद्व 6 हजार 539 टेस्ट किया गया, जो लक्ष्य का 155 प्रतिशत है। इसी तरह जिले के 248 वैक्सिनेशन सेंटर में दो अप्रैल को रिकार्ड संख्या में 23 हजार 868 नागरिकों ने कोरोना का वैक्सिन लगवाया गया। कलेक्टर डाॅ एस.भारतीदासन और जिला मुख्य जिला एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ मीरा बघेल ने बताया कि रायपुर जिले में कोरोना जांच एवं वैक्सिनेशन सेंटर की संख्या में काफी इजाफा किया गया है। रायपुर जिले में शुक्रवार को 23 हजार 221 नागरिकों को वैक्सीन का पहला डोज और 647 नागरिकों को दूसरा डोज लगाया गया। इसमें से 23 हजार 288 नागरिकों को कोविशिल्ड और 580 को कोवैक्सिन का टीका लगाया गया। जिले में 16 जनवरी से अभी तक एक लाख 19 हजार 947 नागरिकों के टीकाकरण का कार्य किया गया है। इनमें से 1 लाख 63 हजार 826 नागरिकों को प्रथम डोज का टीका और 34 हजार 158 को दूसरे डोज का टीका लगाया गया है। इसमें से एक लाख 93 हजार 695 नागरिकों को कोविशिल्ड और चार हजार 289 को कोवैक्सिन लगाया गया है। जिले में 248 चिकित्सालयों, सामुदायिक चिकित्सा केन्द्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, उप स्वास्थ्य केन्द्रों तथा हेल्थ वैक्सिनेशन सेंटर और निजी चिकित्सालयों के माध्यम से टीकाकरण का काम किया जा रहा है। वर्तमान में 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों का टीकाकरण किया जा रहा है। जिला मुख्य जिला एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि रविवार को भी वैक्सिनेशन का कार्य किया जाएगा। इसी तरह जिले में एम्स, जिला चिकित्सालय पंडरी रायपुर के साथ-साथ आरंग, अभनपुर, धरसीवां, तिल्दा के सामुदायिक चिकित्सा केन्द्रों और विभिन्न प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, नगर निगम, रायपुर और बीरगांव के विभिन्न शहरी प्राथमिक चिकित्सा केन्द्रों तथा 20 निजी चिकित्सालयों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में ई-रिक्शा के माध्यम से भी कोरोना टेस्टिंग का काम किया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/ गायत्री प्रसाद