रायपुर : समाज कल्याण बोर्ड को बंद करना महिलाओं बेटियों के साथ अन्याय : कांग्रेस

रायपुर : समाज कल्याण बोर्ड को बंद करना महिलाओं बेटियों के साथ अन्याय : कांग्रेस
raipur-closing-the-social-welfare-board-is-an-injustice-to-women-and-daughters-congress

भाजपा के लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मात्र नारा, समाज कल्याण बोर्ड को बंद करना दुर्भाग्यजनक रायपुर, 20 जून (हि.स.)। मोदी सरकार ने समाज कल्याण बोर्ड को नो प्रॉफिट मानकर बंद कर दिया कांग्रेस ने इसे महिलाओं बेटियों एवं दिव्यांग जनों के साथ अन्याय करार दिया। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने रविवार को बयान जारीकर कहा कि मोदी भाजपा सरकार का समाज कल्याण बोर्ड को नो प्रॉफिट मानकर बंद करना महिलाओं बेटियों एवं दिव्यांगों के साथ अन्याय है।समाज कल्याण बोर्ड कोई व्यवसायिक बोर्ड नही था जिससे केंद्र सरकार को लाभ मिलता। मोदी सरकार के निर्णय से स्पष्ट हो गया कि भाजपा के एजेंडा में समाज का कल्याण करना नहीं है बल्कि सत्ता के जरिये चंद पूंजीपतियों के कल्याण के लिए काम करना है। समाज कल्याण बोर्ड का उद्देश्य शोषित पीड़ित महिलाओं के उत्थान के लिए बच्चियों एवं किशोरियों के शिक्षा दीक्षा के लिए दिव्यांगों के सहायता के लिए काम करना था। उनके पुनर्वास, तकनीक सहायता, उन्हें रोजगार के लिए मार्गदर्शन देना वित्तीय सहायता दिलाना शिशु गृह एवं अल्पवास गृह एवं परिवार परामर्श केन्द्र के माध्यम से महिलाओं परिवारिक के विवाद का निपटारा करना, जागरुकता के लिए काम करना था। धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मोदी भाजपा के लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मात्र नारा है। समाज कल्याण बोर्ड जो बेटियों के सुरक्षा संरक्षण शिक्षा उनके रोजगार उनके सशक्तिकरण के लिए काम कर रही थी। उसे बंद कर मोदी भाजपा ने बता दिया कि भाजपा महिला सशक्तिकरण के विरोधी हैं। हिन्दुस्थान समाचार/चंद्रनारायण शुक्ल

अन्य खबरें

No stories found.