raipur-brijmohan-apologizes-to-the-public-for-calling-the-chhattisgarh-government-poor-congress
raipur-brijmohan-apologizes-to-the-public-for-calling-the-chhattisgarh-government-poor-congress
news

रायपुर: छत्तीसगढ़ सरकार को कंगाल कहने के लिए बृजमोहन जनता से माफी मांगे : कांग्रेस

news

धान नीलामी और पेट्रोल-डीजल पर दिए गए बयानों को कांग्रेस ने तथ्यहीन और बताया गलत रायपुर ,17 फरवरी (हि.स.)। पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल द्वारा धान नीलामी और पेट्रोल-डीजल पर दिए गए बयानों को कांग्रेस ने तथ्यहीन और गलत बताया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि रमन सिंह की प्रतिद्वंदिता में बृजमोहन अग्रवाल गलत और आधारहीन आरोप लगा कर सुर्खियों में बने रहने की जुगत में लगे रहते है। छत्तीसगढ़ सरकार को कंगाल सरकार कहने के लिए बृजमोहन छत्तीसगढ़ की जनता से माफी मांगे। प्रचुर वन खनिज समृद्ध जल, जंगल, जमीन वाले राज्य जिसकी धरा में कोयला, आयरन और लाइम स्टोन बाक्साइड, हीरा जैसे सम्पदा भरी हई है ऐसे समृद्ध राज्य को कंगाल कहना छत्तीसगढ़ का अपमान है। यदि बृजमोहन के निगाह में छत्तीसगढ़ कंगाल राज्य है तो इसे कंगाल बनाने का पाप भी बृजमोहन और उनकी पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के मत्थे जाएगा। 15 साल के कुशासन में भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी कर भाजपा ने राज्य के खजाने पर 52हजार करोड़ का कर्जा लाद दिया था। न किसानों का एक रुपये कर्ज माफ किया था, न धान खरीदी का वायदा पूरा किया था, न किसानों को बोनस दिया। कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने आज कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कांग्रेस सरकार ने राज्य के किसानों से किये गए वायदे के अनुसार 91 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीदी किया है। भाजपा की केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ के भाजपा नेताओं के दबाव में सेंट्रल पुल के लिए लेने वाले चावल के कोटे में 60 लाख मीट्रिक टन लेने का वायदा कर मुकर गई। राज्य सरकार ने धान से एथेनॉल बनाने की अनुमति मांगी तो उसमें भी केंद्र सरकार ने एफसीआई के द्वारा खरीदे गए चावल से ही एथेनॉल बनाने की अनुमति दिया है। भाजपा की केंद्र सरकार हर कदम पर राज्य सरकार की धान खरीदी व्यवस्था में असहयोग कर रही। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि राज्य सरकार पर आरोप लगाने की हड़बड़ी में बिना पूरी जानकारी लिए बृजमोहन अग्रवाल बयान दे रहे। वे झूठा दावा कर रहे कि मध्यप्रदेश में छत्तीसगढ़ से डीजल 9 रुपये सस्ता है, जबकि हकीकत यह है कि मध्यप्रदेश में डीजल और पेट्रोल दोनों छत्तीसगढ़ से महंगा है। मध्यप्रदेश में डीजल 87.88 रुपये है, छत्तीसगढ़ में डीजल 86.34 रुपये है। पेट्रोल मध्यप्रदेश में 97.27 रुपये है छत्तीसगढ़ में पेट्रोल 87.82 रुपये है। छत्तीसगढ़ में पेट्रोल मध्यप्रदेश से 9रू 45 पैसा सस्ता है। बृजमोहन इस झूठे दावे के लिए भी मीडिया से माफी मांगे। हिन्दुस्थान समाचार /केशव शर्मा-hindusthansamachar.in