raigad-elderly-death-due-to-increased-bp-and-brain-hemorrhage-after-the-introduction-of-corona-vaccine
raigad-elderly-death-due-to-increased-bp-and-brain-hemorrhage-after-the-introduction-of-corona-vaccine
news

रायगढ़ : कोरोना वैक्सीन लगने के बाद बीपी बढ़ने और ब्रेन हेमरेज के बाद बुजुर्ग की मौत

news

रायगढ़ 6 अप्रैल (हि.स.) । जिले के जामगांव कोलाइबाहाल निवासी एक 62 वर्षीय मोहम्मद फजलूल की मौत राजधानी रायपुर के निजी अस्पताल में हो गई। बताया जाता है कि मृतक को वैक्सीन लगाने के बाद ब्लड प्रेशर हाई हो गया था इसके बाद उसका पैर ने काम करना बंद कर दिया। जब बुजुर्ग को मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया तब वहां उपस्थित आपातकालीन डॉक्टर ने बताया कि वैक्सीन के कारण यह समस्या हुई है, अपने आप ठीक हो जाएगा। लेकिन उसकी स्थित बिगड़ने लगी और उसे परिजन रायपुर ले गए जहां इलाज के दौरान मंगलवार सुबह उसकी मौत हो गई। वैक्सीनेशन के बाद बढ़ा था बीपी इस मामले में परिजनों का कहना है कि वैक्सीन से पहले मृतक को कभी शारीरिक समस्या नहीं थी, लेकिन 31 मार्च को वैक्सीन लगवाने के बाद उसका बीपी बढ़ गया। इसके बाद डॉक्टर वहां गए, चेकअप किया तो बीपी 170/90 थी। इसके बाद मृतक की बेटी ने लगाए गंभीर आरोप मृतक की बेटी सदिरा के अनुसार दो अप्रैल को मृतक की बेटी जब उन्हें लेकर रायगढ़ मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंची तब वहां उपस्थित डॉक्टर ने कहा कि यह वैक्सीन का इफेक्ट है, ठीक हो जाएगा। डॉक्टर ने उन्हें घर वापस भेज दिया। तीन अप्रैल को उसकी तबियत जब ज्यादा बिगड़ी तो मृतक के परिजन उसे रायपुर ले गए, जहां उन्हें बताया गया कि फजलुल को ब्रेन हैमरेज हो गया है। इलाज के दौरान मंगलवार की सुबह उसकी मौत हो गई। अब परिजनों का कहना है कि वैक्सीन के बाद समस्या शुरू हुई थी लेकिन डॉक्टर ने भी इसे गंभीरता से लेने के बजाय घर वापस कर दिया जिसकी वजह से उनकी मौत हुई है। इधर मामले में रायगढ़ बीएमओ डॉक्टर एसपी पैंकरा ने चर्चा में बताया है कि मृतक को बीपी था, इसके बाद ब्रेन हैमरेज हुआ होगा जिससे उसकी मौत हो गई। इसमें वैक्सीन का कोई रोल नहीं है। वैक्सीन देने के समय भी उसका बीपी 170 से ऊपर था। हिन्दुस्थान समाचार /रघुवीर प्रधान