पुण्य प्रबल होने से मिला है नवकार मंत्र Hindi Latest News 


बड़ी खबरें

पुण्य प्रबल होने से मिला है नवकार मंत्र

पुण्य प्रबल होने से मिला है नवकार मंत्र

चेन्नई किलपॉक में विराजित आचार्य तीर्थ भद्रसूरिश्वर ने कहा जो धर्म का दान देते हैं वे दानेश्वर है। अनादिकाल से मनुष्य में स्वार्थ प्रवृत्ति भरी पड़ी है। संसार में परिग्रह पुत्र पुत्री परिवारप्रतिष्ठा सब कदन्न है। जीवन में कदन्न की भूख कभी शान्त ही नहीं होती और इसको पाने के लिए हम संसार
www.patrika.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

www.patrika.com से अधिक समाचार