yogi-government-demolished-illegal-house-of-drugs-ma-fia-sushil-bachha-in-kanpur
yogi-government-demolished-illegal-house-of-drugs-ma-fia-sushil-bachha-in-kanpur
देश

योगी सरकार ने कानपुर में ड्रग्स मा​फिया सुशील बच्चा का अवैध मकान गिराया.

news

— जेसीबी के न पहुंचने पर हैमर व हथौड़ों से मजदूरों तोड़ रहे सैलब व दीवारें — आयुध निर्माणी की जमीन पर कब्जा कर माफिया ने बनाया था आलीशान भवन अवनीश/मोहित कानपुर, 22 फरवरी (हि.स.)। प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ अपराध जगत से अर्जित सम्पत्ति को बुलडोजर चलाकर उनकी कमर तोड़ने का काम योगी सरकार लगातार कर रही है। सोमवार को कानपुर में मोस्ट वांटेड विकास दुबे के बाद ड्रग्स माफिया की करोड़ों की काली कमाई से डिफेंस की जमीन पर बनाए गए अवैध मकान को जमीदोज करने का काम किया गया। जेसीबी मशीनों के सकरी गलियों में न जाने के चलते हैमर मशीनों व दर्जनों कर्मचारियों को लगाकर ड्रग्स माफिया की अवैध निर्माण को गिराने का काम जारी है। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार माफियाओं पर सख्ती से कार्यवाही करते हुए उनकी काली कमाई को जब्त व निर्माण को जमीदोज करने के क्रम में आज दुर्दांत विकास दुबे के बाद ड्रग्स माफिया सुशील शर्मा उर्फ बच्चा की काली कमाई से तैयार भवन को गिराने पहुंची। भारी पुलिस बल के साथ सेना के जवान की टुकड़ी के साथ प्रशासनिक व डिफेंस के अफसर पहुंचे। अधिकारी लाव—लश्कर में शामिल जेसीबी मशीनों जब माफिया की अर्मापुर डिफेंस क्षेत्र में बने करोड़ों के आलीशान मकान तक नहीं पहुंच सकी तो हैमर मशीनों व मकान गिराने में माहिर मजदूरों की टीम को बुलाया गया। इसके बाद अगल—बगल बने भवन स्वामियों को उनके घरों से निकलवाते हुए माफिया के मकान को जमीदोज करने का काम शुरु किया गया। इस सम्बंध में क्षेत्राधिकारी निशांक शर्मा ने बताया कि काकादेव में स्थित ड्रग्स माफिया सुशील शर्मा उर्फ बच्चा की अवैध सम्पत्ति को एसीएम की निगरानी में जमीदोज करने का काम किया जा रहा है। सीओ ने बताया कि जनपद में आने वाले दिनों में कई माफियाओं पर शिकंजा कसेगा। कार्यवाही की कड़ी में ऐसे कई माफियाओं की सूची तैयार कर ली गई है और अपराधिक दुनिया से अपराधियों द्वारा बनाई गई अवैध सम्पत्तियों पर बुलडोजर चलाया जाएगा। बता दें कि, सुशील कुमार उर्फ बच्चा ड्रग्स माफिया है। उसने अपराध जगत से करोड़ों की नामी—बैनामी सम्पत्ति कानपुर व आसपास के जिलों में बना ली है। उसकी पांच करोड़ रुपये की सम्पत्ति जब्त की जा चुकी है। अन्य सम्पत्तियों पर भी कार्यवाही प्रशासनिक स्तर पर जारी है। इसी क्रम में सोमवार को उसका आलीशान मकान को जमीदोज करने की कार्यवाही की गई। अपराध से अर्जित सम्पत्तियों को बचाने के लिए ड्रग्स माफिया ने राजनीतिक चोला भी उड़ लिया था, लेकिन योगी सरकार ने अपराधी की इस मंशा पर भी पानी फेर दिया। जल्द ही ड्रग्स माफिया के भाई पर भी होगी कार्यवाही डीआईजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि ड्रग्स तस्कर सुशील बच्चा आयुध निर्माणी में आने वाले अम्बेडकर नगर व शास्त्री नगर स्थित श्रम विभाग की कालोनियों व आवासों पर अवैध रुप से कब्जा कर लिया था। इन आवासों पर उसने व उसके भाई राजकुमार ने अपराध के जरिए कमाई काले धन को लगाकर आलीशान निर्माण करा लिया। अपराधी व उसके भाई की अवैध सम्पत्तियों को ढहाया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार

AD
AD