विश्व उर्दू दिवस-2020 के अवार्ड्स की घोषणा
विश्व उर्दू दिवस-2020 के अवार्ड्स की घोषणा
देश

विश्व उर्दू दिवस-2020 के अवार्ड्स की घोषणा

news

- डॉक्टर जफरुल इस्लाम को इस साल दिया जाएगा लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड मोहम्मद शहजाद नई दिल्ली, 23 जुलाई (हि.स.)। अल्लामा इकबाल उर्दू और फारसी के मशहूर शायर होने के साथ-साथ एक दार्शनिक, स्वतंत्रता सेनानी और चिंतक भी थे। उनका लिखा तराना ‘सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा....’ आज भी हमारे दिलों में देशभक्ति की जोत जगाता है। इसीलिए उनकी जन्मतिथि 8 नवम्बर को विश्व उर्दू दिवस मनाया जाता है। विश्व उर्दू दिवस-2020 के अवार्ड्स की घोषणा कर दी गई है जिसमें डॉक्टर जफरुल इस्लाम को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड दिया जायेगा। अवार्ड्स की घोषणा करने के लिए आयोजन की समिति की बैठक प्रोफसर अब्दुल हक की अध्यक्षता में दिल्ली स्थित कार्यालय में आयोजित की गई। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि 1997 से यूनाइटेड मुस्लिम ऑफ इंडिया और उर्दू डेवलपमेंट आर्गेनाइजेशन के संयुक्त तत्वावधान में उर्दू दिवस मनाया जा रहा है। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि उर्दू का संरक्षण और संवर्धन एक राष्ट्रीय मुद्दा है और उर्दू दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य हमारे देश की इस भाषा को बढ़ावा देना है। बैठक में परंपरा के अनुसार उर्दू भाषा, साहित्य और पत्रकारिता के अलावा राष्ट्र और देश हित में उल्लेखनीय काम करने वाले कुछ नामों का चयन किया गया। डॉक्टर अब्दुल जलील फ़रीदी के नाम से दिया जाने वाला लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड इस साल दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष, मिल्ली गज़ेट के संपादक और ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मुशावरत के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर ज़फ़रुल इस्लाम खान को दिए जाने पर सहमति बनी। इसके अलावा, पत्रकारिता के लिए अशरफ अली बस्तवी, वसीम रशीद, सैयद अजमल हुसैन, अली आदिल खान और जाहिद अली के नामों का चयन किया गया। मुंशी प्रेम चंद पुरस्कार के लिए केपी मलिक और बाल साहित्य के लिए सिराज अज़ीम को पुरस्कार देने का निर्णय लिया गया। बैठक में सैयद मंसूर आगा, जावेद अख्तर, सालिक धामपुरी और मौलाना बुरहान अहमद कासमी ने भी अपनी बात रखी। विश्व उर्दू दिवस आयोजन समिति के संयोजक डॉक्टर सैयद अहमद खान ने बैठक में हिस्सा लेने वाले सभी लोगों का धन्यवाद किया। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in