दिल्ली-एनसीआर में बारिश से बदला मौसम का मिजाज, ऑरेंज अलर्ट जारी

 दिल्ली-एनसीआर में बारिश से बदला मौसम का मिजाज, ऑरेंज अलर्ट जारी
weather-pattern-changed-due-to-rain-in-delhi-ncr-orange-alert-issued

नई दिल्ली, 16 सितम्बर (आईएएनएस)। गुरुवार की सुबह राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में हल्की बारिश देखी गई, जिसके बाद ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया, क्योंकि आईएमडी ने गुरुवार के लिए मध्यम से भारी बारिश की भविष्यवाणी की थी। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार तक मध्यम से भारी बारिश जारी रहेगी। शहर में सफदरजंग वेधशाला में पिछले 24 घंटों में गुरुवार सुबह 8.30 बजे तक 2 मिमी बारिश हुई। वहीं, बुधवार को अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 35.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम 24.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। गुरुवार के लिए, मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 25 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। आईएमडी के अनुसार, गुरुवार की बारिश के साथ, सितंबर के महीने में होने वाली बारिश के दिनों की संख्या बढ़कर 13 हो गई है, जो 2011 के बाद से सबसे अधिक है। आईएमडी के आंकड़ों के अनुसार, सितंबर के महीने (2011 से 2021 तक) के दौरान दिल्ली में सबसे ज्यादा बारिश सितंबर 2018 में 14 दिन दर्ज की गई थी, तब महीने में कुल बारिश 237.8 मिमी दर्ज की गई थी। इस साल सितंबर में (14 सितंबर तक) दिल्ली में 432.9 मिमी बारिश हुई है। मौसम की जानकारी देनेवाली एजेंसी ने बारिश के साथ-साथ राष्ट्रीय राजधानी में तेज हवाएं चलने की भी भविष्यवाणी की है। दिल्ली के सफदरजंग वेधशाला में - 1 सितंबर को शहर में कुल 112.1 मिमी बारिश दर्ज की गई थी, जबकि 2 सितंबर को यह 117.3 मिमी थी, 3 सितंबर को यह 1.5 मिमी दर्ज की गई थी, 4 सितंबर को शहर में 0.7 मिमी बारिश हुई, 7 सितंबर को कुल बारिश 5.3 मिमी दर्ज की गई थी, 8 सितंबर को शहर में कुल बारिश 54.0 मिमी दर्ज की गई थी, 11 सितंबर को यह 94.7 मिमी था, 12 सितंबर को राजधानी में 41.1 मिमी बारिश हुई, 13 सितंबर को 1.8 मिमी बारिश हुई और 14 सितंबर को दिल्ली में 3.5 मिमी बारिश हुई। इस बीच, शहर की वायु गुणवत्ता में कुछ स्थानों पर मामूली सुधार हुआ और गुरुवार को सुबह नौ बजे अमेरिकी दूतावास में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 46 के साथ अच्छा रहा। --आईएएनएस एसकेके/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.