जम्मू-कश्मीर की सभी अदालतों में 15 मई तक होगी वर्चुअल सुनवाई

जम्मू-कश्मीर की सभी अदालतों में 15 मई तक होगी वर्चुअल सुनवाई
virtual-hearing-to-be-held-by-may-15-in-all-courts-of-jammu-and-kashmir

जम्मू, 25 अप्रैल (हि.स.)। जम्मू-कश्मीर में कोरोना महामारी के लगातार बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सोमवार को जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस पंकज मिथल ने एक आदेश जारी करते हुए कहा कि प्रदेश की सभी अदालतों में 15 मई तक वर्चुअल तरीके से ही सुनवाई होगी। अदालती कामकाज के लिए स्टॉफ को भी 50 फीसद तक सीमित कर दिया गया है और हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार व प्रिंसिपल सेशन जजों को इसके लिए कर्मचारियों का रोस्टर तैयार करने का निर्देश दिया है। चीफ जस्टिस के आदेश के बाद प्रिंसिपल सेशन जजों ने भी अपने-अपने जिले के लिए आदेश जारी कर व्यवस्था को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि सभी याचियों, आम लोगों व वकीलों के क्लर्कों का प्रवेश कोर्ट परिसर के मुख्य द्वार से ही रोका जाए। केस दायर करने के लिए हाईकोर्ट की दोनों विंग विशेष इमेल आइडी तैयार कर वेबसाइट पर सार्वजनिक करेंगी। अगर हाईकोर्ट का कोई बेंच बेहद ही आपात स्थिति में किसी केस की व्यक्तिगत सुनवाई करना चाहे तो बेंच सभी एसओपी का पालन करते हुए स्वयं निर्णय ले सकता है। हिन्दुस्थान समाचार/बलवान