ईडी ने विकास दुबे की सभी संपत्तियों की जांच शुरू की
ईडी ने विकास दुबे की सभी संपत्तियों की जांच शुरू की
देश

ईडी ने विकास दुबे की सभी संपत्तियों की जांच शुरू की

news

दीपक वरुण लखनऊ, 11 जुलाई (हि.स.)। एनकाउंटर में मारे गये कुख्यात अपराधी विकास दुबे के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू कर दी गई है। इस मामले में ईडी ने कानपुर पुलिस प्रशासन से ब्योरा मांगा है कि विकास और उसके सहयोगियों से पूछताछ में पुलिस को अभी तक क्या-क्या जानकारी मिली है। सूत्रों की मानेंं तो बीते तीन साल में विकास दुबे ने 15 देशों की यात्रा की थी। संयुक्त अरब अमीरात और थाईलैंड में एक-एक पेंटहाउस भी खरीदा था। इसके बाद हाल में ही लखनऊ में लगभग 20 करोड़ की प्रॉपर्टी खरीदे जाने की बात सामने आयी है। साथ ही विकास के परिवार के सदस्यों तथा उसके सहयोगियों के खिलाफ आपराधिक मामलों की वर्तमान स्थिति की भी जानकारी मांगी गई है। ईडी दर्ज करेगा मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत मामला ईडी की एक टीम तीन दिन पहले बुधवार को कानपुर पुलिस और अधिकारियों के साथ संपर्क करके औपचारिक तौर पर विकास दुबे से संबंधित एफआईआर सहित कई दस्तावेज लेकर लखनऊ आई थी। सूत्र बताते हैंं कि उन दस्तावेज के आधार बनाकर ईडी मनी लॉन्ड्रिंग के तहत मामला दर्ज कर सकती है। अगर विकास दुबे के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत कार्रवाई होती है तो उसकी कई अवैध संपत्तियों और यूपी, राजस्थान स्थित उसकी कई अवैध चल-अचल संपत्तियों को भी सीज किया जा सकता है। विकास दुबे के खिलाफ यूपी में 36 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। इनमें कई ऐसे भी गंभीर केस हैं जिनको आधार बनाकर ईडी की टीम आराम से पीएमएलए का केस बना सकती है। उज्जैन जाएगी यूपी एसटीएफ की टीम यूपी एसटीएफ ने भी अपनी जांच का दायरा बढ़ाते हुुए विकास के मददगारों की तलाश शुरू कर दी है। इसी कड़ी में एसटीएफ की एक सदस्यीय टीम जांच के लिए उज्जैन जायेेगी और उज्जैन मन्दिर में लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगालेगी। वहां पर एसटीएफ विकास की मदद करने वालों से भी पूछताछ करेगी। विकास दुबे के शराब कारोबारी से कनेक्शन की जांच होगी। विकास दुबे के उज्जैन पहुंचने पर एक शराब कारोबारी ने उसकी मदद की थी। उसको भी मध्य प्रदेश पुलिस ने हिरासत में लिया है। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in