vaccination-campaign-on-yoga-day-in-mp
vaccination-campaign-on-yoga-day-in-mp
देश

मप्र में योग दिवस पर वैक्सीनेशन का महाअभियान

news

-एक दिन में 10 लाख से अधिक लोगों को लगेगा टीका भोपाल, 20 जून (हि.स.) । मध्य प्रदेश में 21 जून को योग दिवस पर कोविड-19 वैक्सीनेशन महाअभियान आयोजित किया गया है। अभियान के अंतर्गत प्रदेश में सात हजार वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीनेशन की व्यवस्था की गई है। सरकार का प्रयास है कि वैक्सीनेशन महाअभियान में एक दिन में 10 लाख से अधिक व्यक्ति वैक्सीनेशन कराएं। महा अभियान को सफल बनाने के लिए सरकार धर्मगुरुओं, स्वयंसेवी संस्थाओं, सामाजिक कार्यकर्ता, राजनैतिक दलों, सांसदों, मंत्रियों, विधायकों, जन-प्रतिनिधियों का सहयोग ले रही हैं। केंद्र सरकार ने कराई है निशुल्क वैक्सीन उपलब्ध प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने रविवार को कहा है कि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना संकट से देश की जनता को मुक्ति के लिए देश के वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित करते हुए एक साल में पहले वैक्सीन निर्माण करवाई, फिर 137 करोड़ जनसंकख्या वाले देश में बहुत ही वैज्ञानिक तरीके से वैक्सीनेशन प्रोग्राम को डिजाइन किया । जिसमें कि सर्वप्रथम हेल्थवर्कर, फिर फ्रंटलाईन वॉरियर्स, उसके बाद 45 साल से ज्यादा आयु के लोगों को यह कोरोना का टीका दिया गया और अब 18 वर्ष से ऊपर के सभी वर्ग को 21 जून से निशुल्क वैक्सीन उपलब्ध कराई गई है। जीवन में सफल हुए लोग देंगे वैक्सीनेशन की प्रेरणा विश्वास सारंग का कहना है कि मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नेतृत्व में जिस तरह से कोरोना काल में काम हुआ है उसे स्वयं प्रधानमंत्री मोदीजी ने सराहा है और मध्य प्रदेश मॉडल की सभी ओर प्रशंसा की है। उन्होंने बताया कि सोमवार सुबह 10 बजे से विभिन्न स्थानों पर लगभग सात हजार वैक्सीनेशन सेंटर पर यह अभियान एक साथ शुरू होगा। जिस प्रकार से पूरे कोरोना समय में सफलता से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने समाज को साथ लेकर इससे लड़ाई की, उसी तरह से सोमवार को प्रत्येक वैक्सीनेशन सेंटर पर समाज के विभिन्नि क्षेत्रों में सफल रहे लोग उत्सावर्धन के लिए मौजूद रहेंगे। उन्होंने कहा है कि सरकार का मानना है, जो समाज में प्रेरणा देते हैं ऐसे व्यक्ति यदि प्रेरणा देने वैक्सीनेशन सेंटर पर जाएंगे तो उसका व्यापक असर सकारात्मक तौर पर देखने को मिलेगा। वैक्सीनेशन सेंटर पर दिलाया जाएगा सभी को यह संकल्प मंत्री सारंग ने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से 19 लाख वैक्सीन की खुराक मिल चुकी है। एक दिन में 10 लाख लोगों को टीके लगाना का प्रदेश सरकार का लक्ष्य है। हर जिले में प्रेरक मौजूद रहेंगे। किस सेंटर में कौन जाएगा इसकी लिस्ट बन गई है। प्रेरक पहुंचेंगे और सर्वप्रथम दीप प्रज्ज्वलित होगा। फिर जिसने देश पर सर्वस्व समर्पित किया है ऐसे महान किसी भी देशभक्त का स्मरण कर उनकी तस्वीर पर माल्यार्पण कर वैक्सीनेशन का काम शुरू कर दिया जाएगा। इस दौरान सभी को संकल्प दिलाया जाएगा, जोकि तीसरी लहर को रोकने के संबंध में है। इसके साथ कोरोना गाइडलाइन का पालन करने का भी संकल्प दिलाया जाएगा। मतदान अभियान की तरह चलेगा यह एक दिनी टीकाकरण अभियान मंत्री सारंग कहते हैं कि सात हजार वैक्सीनेशन स्थल पर पांच सदस्यीय दल रहेगा, तब इस हिसाब से 35 हजार कर्मचारी वैक्सीनेशन के इस अभियान में लगेंगे। इसके निगरानी और समन्वय की व्यवस्था में लगभग 1500 लोगों को तैनात किया गया है। जो प्रत्येक टीकाकरण सेंटर का दौरा करेंगे । हर चार-पांच सेंटर के बीच एक जोनल अधिकारी नियुक्त किया गया है। दिव्यांग और बुजुर्गों के ट्रांसपोर्टेशन की अलग से सुविधा रहेगी । मतदान अभियान की तरह ही यह टीकाकरण अभियान चलेगा। प्रत्येक घंटे के बाद मॉनिटरिंग रिपोर्ट तैयार होगी । केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर करेंगे मुरैना से अभियान का शुभारंभ इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि जो एक लाख कोरोना वॉलंटियर्स बने वे भी इसमें जुड़ेंगे। सभी केंद्रीय मंत्री, राज्य मंत्री तथा अन्य समाज के प्रमुख लोग इस अभियान से जुड़ेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस वैक्सीनेशन महाअभियान की शुरूआत दतिया में मां पीताम्बरा देवि के दर्शन के साथ करेंगे। केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर मुरैना से इस अभियान की शुरूआत करेंगे। केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत नागदा से जुड़ेंगे। केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते मण्डला में अभियान की शुरूआत करेंगे। ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर में इसका शुभारंभ करेंगे। पद्म श्री डॉ. जनक पलटा, कैलाश विजयवर्गीय इंदौर से जुड़ेंगे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद विष्णुदत्त शर्मा, ओलंपियन समीर दाद भोपाल से इस कार्यक्रम में जुड़ेंगे। सरकार का लक्ष्य है कोरोना की तीसरी लहर को प्रदेश में आने से रोकना उन्होंने इस दौरान यह भी कहा है कि सरकार का कुल लक्ष्य जनता को कोरोना से बचाने के साथ तीसरी लहर को मध्य प्रदेश में आने से रोकना है। सीएम शिवराज ने तय किया है कि जिस जगह वैक्सीनेशन होगी। उस क्षेत्र को 100 प्रतिशत वैक्सीनेशल क्षेत्र का दर्जा दिया जाएगा। जिस प्रकार स्वच्छता की रैंकिंग दी गई वैसे ही इसमें भी रैंकिंग के माध्यम से यह स्थापित करेंगे कि यह क्षेत्र अब वैक्सीनेशन युक्त है । अगले माह फिर करेंगे तीन दिन का महा वैक्सीनेशन अभियान सारंग ने बताया कि सभी मंत्री एवं सांसद अपने-अपने प्रभार एवं अपने क्षेत्र में रहकर इस अभियान का शुभारंभ करेंगे। इसके बाद फिर एक से तीन जुलाई को समीक्षा के बाद तीन दिन का जनजागरण का वैक्सीनेशन का एक बड़ा कार्यक्रम फिर से आयोजित करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/डॉ. मयंक चतुर्वेदी