(अपडेट) भारत-पाकिस्तान के सैनिकों ने ईद-उल-फितर पर एक-दूसरे को दीं मिठाइयां

(अपडेट) भारत-पाकिस्तान के सैनिकों ने ईद-उल-फितर पर एक-दूसरे को दीं मिठाइयां
update-india-pakistan-soldiers-gave-sweets-to-each-other-on-eid-ul-fitr

कुपवाड़ा, 13 मई (हि.स.)। भारत और पाकिस्तान के बीच नियंत्रण रेखा के साथ कई क्रॉसिंग पॉइंट पर गुरुवार को दोनों देशों के सैनिकों ने एक-दूसरे को मिठाइयों का आदान-प्रदान किया। दोनों देशों के बीच ईद-उल-फितर के मौके पर एक-दूसरे को मिठाइयां देने की परंपरा लम्बे समय से चली आ रही है। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि ईद-उल-फितर, होली, दिवाली और अन्य प्रमुख त्योहारों पर भारत और पाकिस्तान के बीच मिठाइयों के आदान-प्रदान की परंपरा को पुनर्जीवित किया गया है। उन्होंने कहा कि इस दौरान किशनगंगा नदी के ऐतिहासिक टिथवाल चौराहे पर एक बैठक आयोजित की गई जिसमें मिठाइयों और खुशियों के आदान-प्रदान का फैसला किया गया था। दोनों पक्षों ने सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आज मिठाइयों का आदान-प्रदान किया। पुंछ-रावलकोट और टिथवाल पुल पर गुरुवार को दोनों देशों के सैनिकों ने एक-दूसरे को मिठाइयों का आदान-प्रदान किया। इसके अलावा जम्मू संभाग के पुंछ जिले में पुंछ-रावलकोट क्रॉसिंग पॉइंट और मेंढर-हॉट स्प्रिंग क्रॉसिंग पॉइंट के पास नियंत्रण रेखा पर भी ईद-उल-फ़ितर के अवसर पर मिठाईयों का आदान प्रदान किया। इस दौरान दोनों सेनाओं के प्रतिनिधियों ने मिठाइयों और तोहफों का आदान-प्रदान करके एक उत्सव का माहौल बनाया।इस मिठाई के आदान-प्रदान समारोह को दोनों देशों के बीच हाल ही में हुए संघर्ष विराम की पृष्ठभूमि में एक विश्वास निर्माण उपायों के रूप में देखा जा रहा है। इससे दोनों सेनाओं में आपसी विश्वास को बढ़ावा देने की उम्मीद जागी है। वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मिठाई के आदान-प्रदान को दोनों देशों ने सराहा है। इस दौरान त्योहार की सच्ची भावना में शांति, सद्भाव और करुणा को बढ़ावा देने के लिए एक बेहतर भविष्य की उम्मीद के साथ एक लंबा रास्ता तय करने की उम्मीद है। अधिकारी ने कहा कि नियंत्रण रेखा के दोनों ओर नागरिक आबादी ने भी इस आयोजन की सराहना की है। हिन्दुस्थान समाचार/बलवान/सुनीत

अन्य खबरें

No stories found.