उद्धव ठाकरे को राममंदिर निर्माण के भूमिपूजन में बुलाया जाए, खून से पत्र लिखकर भोपाल के शिवसैनिक ने मांग की
उद्धव ठाकरे को राममंदिर निर्माण के भूमिपूजन में बुलाया जाए, खून से पत्र लिखकर भोपाल के शिवसैनिक ने मांग की
देश

उद्धव ठाकरे को राममंदिर निर्माण के भूमिपूजन में बुलाया जाए, खून से पत्र लिखकर भोपाल के शिवसैनिक ने मांग की

news

राम मंदिर के शिलान्यास कार्यक्रम में उद्धव ठाकरे को नहीं बुलाने पर भोपाल के शिवसैनिकों ने श्रीराम जन्मभूमि न्यास को खून से पत्र लिखा। असल में, शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को इस कार्यक्रम में नहीं बुलाया गया। इससे शिवसेना आहत है। इसे लेकर शुक्रवार को भोपाल के शिव सैनिक ने खून से पत्र लिखकर कर विनती की है कि अयोध्या में होने वाले भूमि पूजन के कार्यक्रम में उद्धव ठाकरे को बुलाया जाए। शिवसैनिकों ने एसडीएम को खून से पत्र लिखा है। शिवसेना के भोपाल जिला अध्यक्ष कुलदीप तिवारी ने कहा कि हमने राम जन्मभूमि न्यास को खून से पत्र लिखा है। क्योंकि राममंदिर निर्माण के भूमिपूजन में शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे को नहीं बुलाया जा रहा है और ये राजनीति से प्रेरित लगता है। शिवसेना हमेशा से राममंदिर का मुद्दा उठाती रही है। कुलदीप तिवारी ने कहा कि मोदी जी 2019 में सरकार बनने के बाद मंदिर का मुद्दा भूल गए थे। तब शिवसेना सांसदों ने उन्हें याद दिलाते हुए कहा था कि पहले मंदिर फिर सरकार का नारा दिया था। साथ ही मंदिर निर्माण के लिए पहली चांदी की ईंट माननीय उद्धव ठाकरे ने अयोध्या में जाकर दी थी। इसके बाद भी शिवसेना और उद्धव ठाकरे को न बुलाना शिवसेना का अपमान है। इसे लेकर शिवसेना उग्र प्रदर्शन करेगी। भाजपा की ओछी राजनीति को प्रदर्शित करता है। शिवसेना ने मंदिर निर्माण को कभी भी राजनीतिक मुद्दा नहीं बनाया और न ही वोट बैंक की राजनीति की।-newsindialive.in