चुनाव आयोग ने डॉ हिमंत विश्वशर्मा को जारी किया कारण बतायो नोटिस

चुनाव आयोग ने डॉ हिमंत विश्वशर्मा को जारी किया कारण बतायो नोटिस
the-election-commission-issued-a-notice-to-dr-himant-vishwasharma-stating-the-reason

-दो अप्रैल की शाम 05 बजे तक स्थिति स्पष्ट करनी होगी गुवाहाटी, 01 अप्रैल (हि.स.)। बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) के अध्यक्ष व पूर्व बीटीसी प्रमुख हग्राम महिलारी को एनआई की जांच में फंसाकर जेल भेजने के कथित आरोप के संबंध असम सरकार के मंत्री डॉ हिमंत विश्वशर्मा अब केंद्रीय चुनाव आयोग की नजर में आ गये हैं। कांग्रेस ने 30 मार्च को हिमंत विश्वशर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज किए जाने के बाद केंद्रीय चुनाव आयोग के सचिव अजय कुमार वर्मा ने गुरुवार को डॉ विश्वशर्मा को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नोटिस में डॉ विश्वशर्मा को दो अप्रैल की शाम 05 बजे तक नोटिस का जवाब देना है। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले डॉ विश्वशर्मा ने मीडिया से बातचीत के दौरान हग्रामा महिलारी को एनआईए के जरिए गिरफ्तार कर जेल भेजने की बात करने का कांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया था। कांग्रेस ने सवाल किया कि हग्रामा महिलारी को जेल भेजने की बात करते हुए ब्लैकमेल करने की हिम्मत डॉ विश्वशर्मा को कहां से मिली है। इस संदर्भ में कांग्रेस ने चुनाव आयोग से डॉ विश्वशर्मा को चुनाव प्रचार से रोकने और उन्हें उम्मीदवारी से वंचित करने का निर्देश देने की भी चुनाव आयोग से मांग की थी। गत मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए एआईसीसी के प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने सवाल किया था, "हिमंत विश्वशर्मा को हग्राम महिलारी को जेल भेजने की इतनी हिम्मत कैसे मिली? यदि उनके पास पहले इस संबंध में बहुत सी जानकारी थी तो उन्हें ये जानकारी असम पुलिस को सौंपनी चाहिए थी या यदि वह चुनाव के दौरान ये जानकारी प्राप्त करने में सक्षम थे तो उन्हें ये जानकारी किसने उपलब्ध कराई? उनको बताना चाहिए।" हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद

अन्य खबरें

No stories found.