तेलंगाना को कोविशील्ड की 3 लाख और खुराक मिली

 तेलंगाना को कोविशील्ड की 3 लाख और खुराक मिली
telangana-gets-3-lakh-more-doses-of-kovishield

हैदराबाद, 29 अप्रैल (आईएएनएस)। तेलंगाना में वैक्सीन की कमी के बीच गुरुवार को कोविशिल्ड की 3 लाख और खुराक मिली। वैक्सीन की खुराक पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) से राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे तक पहुंची। फिर खेप को शहर के राज्य वैक्सीन केंद्र में भेज दिया गया है। अधिकारी विभिन्न जिलों में खुराक पहुंचाने की व्यवस्था कर रहे हैं। वैक्सीन ऐसे समय में आया है जब राज्य में टीकाकरण कार्यक्रम में वैक्सीन की कमी के चलते कई लोग टीकाकरण केंद्रों से निराश लौट रहे थे। कुछ केंद्रों पर लोगों और अधिकारियों के बीच बहस भी देखी गई है। ताजा स्टॉक केवल कुछ दिनों तक चलेगा क्योंकि राज्य स्वास्थ्य अधिकारी हर दिन 1 से 1.5 लाख लोगों को टीका लगाने की योजना बना रहे हैं। अधिकारियों ने कहा कि राज्य में 1 मई से 18 से 45 वर्ष के लोगों के टीकाकरण शुरू करने के लिए कोई वैक्सीन स्टॉक नहीं है। पर्याप्त आपूर्ति की कमी के कारण टीकाकरण के तीसरे चरण के शुभारंभ पर अनिश्चितता बनी हुई है। अधिकारी वर्तमान में 45 वर्ष की आयु से ऊपर के लोगों के दूसरे टीकाकरण पर ध्यान दे रहे हैं। सार्वजनिक स्वास्थ्य निदेशक जी श्रीनिवास राव ने बुधवार को बताया था कि राज्य में हर दिन 10 लाख लोगों को टीका लगाने की क्षमता है, लेकिन यह पर्याप्त संख्या में खुराक की इंतजार कर रहा है। 28 अप्रैल को राज्य में स्वास्थ्य अधिकारियों ने 1,38,152 खुराक दी। उनमें 28,828 लोग शामिल थे जिन्हें दूसरी खुराक मिली। दी गई खुराक की कुल संख्या 45,36,641 हो गई है। स्वास्थ्य निदेशक के अनुसार, गुरुवार को आने वाले स्टॉक से पहले, तेलंगाना को 46,53,890 खुराक मिली थी। मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर रेड्डी द्वारा एक या दो दिन में राज्य की वैक्सीन नीति की घोषणा करने की संभावना है। मुख्यमंत्री ने 24 अप्रैल को राज्य के चार करोड़ निवासियों को मुफ्त में कोविड-19 के टीकाकरण का फैसला किया। राज्य सरकार ने कहा कि टीकाकरण कार्यक्रम के लिए 2,500 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। राज्य सरकार ने मंगलवार को भारत बायोटेक को अपने कोविड-19 वैक्सीन कोवैक्सीन की अधिकतम खुराक राज्य को देने का आग्रह किया। मुख्य सचिव सोमेश कुमार ने इस संबंध में भारत बायोटेक के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक कृष्णा एला से मुलाकात की। --आईएएनएस एचके/एएनएम