तमिलनाडु सरकारी अस्पताल, पीएचसी टीकाकरण में निजी केंद्रों से आगे

 तमिलनाडु सरकारी अस्पताल, पीएचसी टीकाकरण में निजी केंद्रों से आगे
tamil-nadu-government-hospitals-phcs-ahead-of-private-centers-in-vaccination

चेन्नई, 31 अगस्त (आईएएनएस)। तमिलनाडु में सरकारी अस्पताल और शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लोगों के दैनिक टीकाकरण के मामले में निजी अस्पतालों से काफी आगे हैं। जन स्वास्थ्य विभाग की एक रिपोर्ट के अनुसार, तमिलनाडु के सरकारी अस्पताल, पीएचसी और घर-घर जाकर टीकाकरण एक दिन में टीकों की लगभग 2.7 लाख खुराक देते हैं। हालांकि, निजी अस्पतालों में टीकाकरण की संख्या लगभग 21,000 है। इससे पता चलता है कि सरकारी अस्पतालों में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण निजी अस्पतालों की तुलना में दस गुना अधिक टीके लगाए जा रहे है। तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री मा सुब्रमण्यम ने आईएएनएस को बताया, सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण की संख्या, और पीएचसी की संख्या औसतन प्रतिदिन लगभग 2.7 लाख खुराक है, जबकि निजी अस्पतालों में यह लगभग 21000 है। सरकारी केंद्रों में टीके मुफ्त हैं और परेशानी मुक्त हैं और इसलिए जनता सरकारी केंद्रों को प्राथमिकता दे रही है। तमिलनाडु का स्वास्थ्य विभाग बार-बार केंद्र सरकार से निजी क्षेत्र को टीकों की आपूर्ति कम करने और सरकारी क्षेत्र को आपूर्ति बढ़ाने का अनुरोध करता रहा है। हालांकि प्रतिदिन टीकाकरण के मामले में तमिलनाडु कुछ राज्यों से पीछे है। जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार दिसंबर 2021 तक पूरे राज्य में टीके की कम से कम एक खुराक लगाने के लिए राज्य को एक दिन में औसतन 7 लाख टीके लगाने होंगे। जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार, मा सुब्रमण्यम पहले ही केंद्र सरकार से एक ही आवंटन में 1 करोड़ वैक्सीन खुराक उपलब्ध कराने का अनुरोध कर चुकी हैं। इससे राज्य को अन्य राज्यों के साथ तालमेल बिठाने में मदद मिलेगी और दिसंबर 2021 तक अपनी आबादी को टीके की कम से कम एक खुराक देने के लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी। --आईएएनएस एसएस/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.