तमिलनाडु में कोरोना से 88 की मौत, 4807 नए मामले मिले
तमिलनाडु में कोरोना से 88 की मौत, 4807 नए मामले मिले
देश

तमिलनाडु में कोरोना से 88 की मौत, 4807 नए मामले मिले

news

ग्रेट चेन्नई कारपोरेशन का दावा, शहर में कोरोना मरीजों के प्रतिशत में आई कमी चेन्नई, 18 जुलाई (हि.स.)। देशभर में कोरोना प्रकोप से सर्वाधिक प्रभावित राज्य महाराष्ट्र के बाद तमिलनाडु में कोरोना लगभग बेकाबू सा हो रहा है। हालांकि चेन्नई नगर निगम का कहना है कि जांच का कार्य तेजी से बढ़ाने और कड़े नियंत्रण के चलते चेन्नई शहर में कोरोना संक्रमित होने के प्रतिशत में कमी आई है। राज्य में आज कोरोना के 4,807 नए मामले सामने आए हैं। राज्यभर में आज कोरोना से 88 लोगों की मौत हुई है। राज्य में कोरोना के मामलों की संख्या बढ़कर 1,65,714 हो गई है। इनमें से अब तक 1,13,856 लोग ठीक हो चुके हैं। राज्य के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग ने बताया कि अपने बुलेटिन में बताया कि आज के 4807 मामलों में से केवल चेन्नई में 1221 दर्ज किए गये हैं। इसके अलावा चेंगलपट्टू में 325, तिरुवल्लुर में 373,मदुरै व वेल्लोर में 186, विरुधुनगर में 179 दर्ज किए गए हैं। राज्य में आज 88 लोगों की मौत हुई है, इनमें से सबसे अधिक मरने वाले चेन्नई से हैं, जहां 31 लोगों की मौत हुई है। बुलेटिन में बताया गया कि आज राज्यभर के विभिन्न अस्पतालों में से 3049 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। इनमें से सबसे अधिक 1116 लोग चेन्नई के हैं। राज्य में अब तक 1,13,856 लोग ठीक हो चुके हैं। ग्रेट चेन्नई कारपोरेशन के आयुक्त जी. प्रकाश ने बताया कि सरकार के पिछले महीने 12 दिन के लॉकडाउन से हालात को काबू में करने में मदद मिली। उन्होंने बताया कि कोरोना की जांच का बढ़ाकर, बुखार जांच शिविर लगाकर और घर-घर जाकर सर्वेक्षण करने से संक्रमित लोगों की दर 10-12 फीसदी तक आ गयी है, जो महज एक महीने पहले करीब 35-37 प्रतिशत थी। हिन्दुस्थान समाचार / सुनील-hindusthansamachar.in