उप्र में कोरोना की जांच का आंकड़ा 20 लाख के पार, तमिलनाडु के बाद बना दूसरा राज्य
उप्र में कोरोना की जांच का आंकड़ा 20 लाख के पार, तमिलनाडु के बाद बना दूसरा राज्य
देश

उप्र में कोरोना की जांच का आंकड़ा 20 लाख के पार, तमिलनाडु के बाद बना दूसरा राज्य

news

लखनऊ, 28 जुलाई (हि.स.)। प्रदेश में कोरोना की रफ्तार बढ़ने के साथ इसकी जांच में भी लगातार तेजी लाई जा रही है। राज्य में आरटीपीसीआर, ट्रनैट मशीन तथा रैपिड एंटीजन किट के माध्यम से टेस्ट किए जा रहे हैं। वहीं लोगों को जागरूक करने के लिए जनपदों में स्टेटिक बूथ की स्थापना करके भी जांच की जा रही है। अधिकांश जनपदों में इनकी स्थापना हो चुकी है और लोग यहां आकर अपनी कोरोना जांच करा सकते हैं। इस बीच शासन की ओर से मंगलवार को दिए गए आंकड़ों के मुताबिक राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में सोमवार को 91,830 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इससे पहले 26 जुलाई को अभी तक के सर्वाधिक 1,06962 नमूनों की जांच की गई थी। वहीं 25 जुलाई को 71,881, 24 जुलाई को 57,068, 23 जुलाई को 50,697, 22 जुलाई को 54,897 और 21 जुलाई को 45,650 नमूनों की जांच की गई थी। ताजा आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश में अब तक कुल 20,33,089 कोरोना नमूनों की जांच की जा चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सचिव आलोक कुमार के मुताबिक इस तरह 20 लाख जांच का आंकड़ा पार करने वाला उत्तर प्रदेश देश में तमिलनाडु के बाद दूसरा राज्य हो गया है। राज्य में स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक लगभग दो लाख टीमों ने 1,38 करोड़ से अधिक घरों के 7.73 करोड़ से अधिक लोगों का सर्वेक्षण किया है। राष्ट्रीय स्तर पर जांच में उप्र की हिस्सेदारी 20 प्रतिशत करने की तैयारी इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि जुलाई, 2020 में राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिदिन सम्पन्न होने वाली कोरोना जांचों में राज्य का योगदान बढ़कर 15 प्रतिशत हो गया है। इसे बढ़ाकर 20 प्रतिशत किया जाएगा। इससे पहले जब अप्रैल माह में राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिदिन लगभग 06 हजार टेस्ट किए जा रहे थे, तब इसमें उत्तर प्रदेश का योगदान 06 प्रतिशत था। राज्य में आरटीपीसीआर के माध्यम से राज्य में प्रतिदिन 40 हजार से अधिक टेस्ट हो रहे हैं। वहीं रैपिड एंटीजन किट के माध्यम से प्रतिदिन 56 हजार टेस्ट हो रहे हैं। इन्हें बढ़ाकर प्रतिदिन 01 लाख किए जाने का प्रयास किया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/सुनीत-hindusthansamachar.in