तीर्थों की माटी और जल लेकर स्वामी परमानंद अयोध्या रवाना
तीर्थों की माटी और जल लेकर स्वामी परमानंद अयोध्या रवाना
देश

तीर्थों की माटी और जल लेकर स्वामी परमानंद अयोध्या रवाना

news

हरिद्वार, 02 अगस्त (हि.स.)। श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र न्यास के सदस्य एवं हरिद्वार अखंड परमधाम आश्रम के परमाध्यक्ष स्वामी परमानंद महाराज रविवार को उत्तराखंड के चारों धामों की मिट्टी, गंगा व उत्तराखंड की पवित्र नदियों का जल और कैलाश पर्वत से लाये गए कंकड़-पत्थर के साथ अयोध्या के लिए रवाना हो गए। स्वामी परमानंद महाराज के आश्रम ने मंदिर निर्माण के लिए ग्यारह लाख रुपये का चेक भी उन्हें दिया है। उनके एक शिष्य ने सवा लाख रुपये का चेक और कैलाश पर्वत से लाए कंकड़-पत्थर उन्हें सौंपे। यह सभी सामग्री 5 अगस्त को श्रीराम मंदिर शिलान्यास पूजा में प्रयोग में लाई जाएगी।स्वामी परमानंद के अयोध्या रवाना से पहले आश्रम में पूजा की गई। स्वामी परमानंद का कहना है कि भगवान श्रीराम का मंदिर तीन साल में तैयार होने की संभावना है। अगर इस दौरान राजनीतिक कारणों से काम में ढिलाई बरती गई तो वह विरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि अब संतों को काशी विश्वनाथ और मथुरा भी चाहिए। काशी विश्वनाथ मंदिर में ऊपर मस्जिद देख कर दुख होता है। उन्होंने कहा कि वह सोमवार को शिलान्यास के लिए होने वाली गणेश पूजा में भाग लेंगे और 5 अगस्त को मंदिर के शिलान्यास पूजा के बाद वापस हरिद्वार आएंगे। उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण में धन की कमी नहीं आने दी जाएगी। जरूरत पड़ी तो वह अपना आश्रम भी बेच देंगे। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद-hindusthansamachar.in