विकास दुबे एन्काउन्टर मामले में 14 जुलाई को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट
विकास दुबे एन्काउन्टर मामले में 14 जुलाई को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट
देश

विकास दुबे एन्काउन्टर मामले में 14 जुलाई को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

news

नई दिल्ली, 13 जुलाई (हि.स.)। सुप्रीम कोर्ट विकास दुबे और उसके सहयोगियों के एनकाउन्टर के मामले की सीबीआई या एनआईए से जांच की मांग करनेवाली दो याचिकाएं पर कल सुनवाई करेगा। चीफ जस्टिस एसए बोब्डे की अध्यक्षता वाली बेंच दोनों याचिकाओं पर सुनवाई करेगी। एक याचिका सुप्रीम कोर्ट के वकील अनूप प्रकाश अवस्थी ने दायर किया है। याचिका में 2 जुलाई को 8 पुलिस वालों की हत्या के मामले में भी सीबीआई या एसआईटी से जांच कराने की मांग की गई है। अनूप अवस्थी का कहना है कि पुलिस, राजनेता और अपराधियों के गठजोड़ की तह तक पहुंचना ज़रूरी है। अनूप अवस्थी ने इसी मामले में पहले दाखिल अन्य याचिका पर जल्द सुनवाई की मांग की है। रजिस्ट्री को लिखे पत्र में कहा गया है कि आशंका है कि विकास दुबे जैसे एनकाउंटर बाकी का भी हो सकता है। दूसरी याचिका एनजीओ पीपुल्स युनियन फॉर सिविल लिबर्टीज (पीयुसीएल) ने दायर किया है। पीयुसीएल ने इस एनकाउंटर की न्यायिक जांच की मांग की है। याचिका में कहा गया है कि त्वरित न्याय के नाम पर पुलिस इस तरह कानून अपने हाथ में नहीं ले सकती है। एनकाउंटर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या से जुड़े मामले में गिरफ्तार सब-इंस्पेक्टर केके शर्मा ने भी सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। याचिका में विकास दुबे के एनकाउंटर के मद्देनजर ख़ुद की जान को खतरा बताते हुए कोर्ट से सुरक्षा की मांग की है। याचिका में इस मामले की जांच उत्तरप्रदेश पुलिस की बजाए सीबीआई से कराए जाने की मांग की गई है। सब-इस्पेक्टर केके शर्मा कानपुर एनकाउंटर के वक्त वहां मौजूद थे लेकिन ऐन मौके पर घटनास्थल से भाग गए थे। उनको और एसओ विनय तिवारी को पुलिस ने विकास दुबे से संबंध रखने, उसके लिए मुखबिरी करने और एनकाउंटर के समय पुलिस टीम की जान ख़तरे में डालने के आरोप में गिरफ्तार किया था। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/सुनीत-hindusthansamachar.in