supreme-court-verdict-wins-truth-chandrakant-patil
supreme-court-verdict-wins-truth-chandrakant-patil
देश

सुप्रीम कोर्ट का फैसला सत्य की जीत: चंद्रकांत पाटिल

news

मुंबई, 08 अप्रैल (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट से गुरुवार को अनिल देशमुख की याचिका खारिज करने से सत्य की जीत हुई है। पाटिल ने कहा कि पूर्व मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर लगाए गए आरोपों की गहन जांच की जानी चाहिए। साथ ही इस मामले में सभी आरोपितों पर मोका के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए। चंद्रकांत पाटिल ने गुरुवार को पत्रकारों से कहा कि परमबीर सिंह का अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये रंगदारी वसूलने का लगाया गया आरोप बेहद गंभीर है। इस आरोप से राज्य सरकार व पुलिस विभाग की छवि धूमिल हो रही है। इसके बाद एंटीलिया मामले में गिरफ्तार सचिन वाझे ने भी महाविकास आघाड़ी सरकार के कई मंत्रियों पर रंगदारी वसूलने का आरोप लगाया है। इसलिए इन मामलों की जांच आवश्यक है। शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान किया जाना चाहिए। राऊत ने कहा कि परमबीर सिंह के गंभीर आरोपों की सच्चाई का पता निष्पक्ष जांच के बाद ही चल सकेगा। सुप्रीम कोर्ट के ऊपर अब देश में कोई कोर्ट नहीं है, इसलिए इसे अब चुनौती नहीं दी जा सकती है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटील ने सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि परमबीर सिंह के आरोप पर हाईकोर्ट के निर्णय को सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी गई थी। यह सभी का अधिकार है, न्याय न मिलने पर ऊपर की कोर्ट में जाने का प्रावधान है। सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय को अन्य कोर्ट में चुनौती नहीं की जा सकती है। हिन्दुस्थान समाचार/राजबहादुर/सुनीत