आज से पर्यटकों के खुला स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, पहले दिन सिर्फ 300 पर्यटक पहुंचे

आज से पर्यटकों के खुला स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, पहले दिन सिर्फ 300 पर्यटक पहुंचे
statue-of-unity-opened-for-tourists-from-today-only-300-tourists-arrived-on-the-first-day

- सोशल डिस्टेंस और पर्यटकों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य - जंगल सफारी पार्क, चिल्ड्रन पार्क और रमाडा होटल टेंट सिटी भी खुले केवडिया/अहमदाबाद, 08 जून (हि.स.)। दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को आज पर्यटकों के लिए फिर से खोल दिया गया है। इसके साथ ही केवड़िया में जंगल सफारी पार्क, चिल्ड्रन पार्क और रमाडा होटल, टेंट सिटी समेत कई स्थानों को पर्यटकों के लिए खोल दिया है। दरअसल, पिछले मार्च में कोरोना की पहली लहर के दौरान प्रतिमा करीब 6 महीने तक बंद रही। मार्च 2021 में दूसरी लहर के दौरान पर्यटकों के लिए प्रतिमा खुली रही। बाद में पर्यटकों की संख्या कम होने पर इसे बंद कर दिया गया था। कोरोना की दूसरी लहर थमने के बाद राज्य सरकार ने अनलॉक के तहत आज से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और अन्य आकर्षण के केन्द्रों को पर्यटकों के लिए फिर से खोल दिया गया है। आज पहले दिन 300 पर्यटक स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने पहुंचे। इस दौरान पर्यटकों के लिए शारीरिक दूरी और मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। अब स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की व्यूइंग गैलरी को एक दिन में 7000 टिकटों के साथ स्लॉट किया गया है और स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के अंदर टिकट असीमित हैं। आज 165 पर्यटकों ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को ऑनलाइन देखने के लिए 380 रुपये के टिकट बुक किए हैं और 22 पर्यटकों ने व्यूइंग गैलरी देखने के लिए 1,030 रुपये के एक्सप्रेस टिकट बुक किए। सरकार के आदेश के बाद स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के साथ जंगल सफारी पार्क, चिल्ड्रन पार्क और रमाडा होटल टेंट सिटी सहित कई केवड़िया प्रोजेक्ट पर्यटकों के लिए खोल दिए गए हैं उल्लेखनीय है कि कोरोना के प्रकोप के चलते केवड़िया में टेंट सिटी और होटलों के मालिकों को पिछले एक साल से पर्यटकों की कमी के कारण लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। अब सरकार ने पर्यटकों को आने की अनुमति देने से लंबे समय से भय के माहौल में रह रहे लोग अपने मन को शांत करने के लिए पर्यटन स्थलों पर जाना शुरू कर रहे हैं। अब फिर से पर्यटकों की एक बड़ी आमद से छोटे व्यापारियाें से लेकर बड़े होटल व्यवसायी खुश हैं। हिन्दुस्थान समाचार/हर्ष शाह