दक्षिण कोरिया सिक्किम में कई क्षेत्रों में करेगा भारी निवेश

दक्षिण कोरिया सिक्किम में कई क्षेत्रों में करेगा भारी निवेश
south-korea-will-invest-heavily-in-many-areas-in-sikkim

नई दिल्ली, 16 अप्रैल (हि.स.)। भारत के पूर्वोत्तर राज्य सिक्किम में दक्षिण कोरिया नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं, बिजली उत्पादन, फार्मास्यूटिकल्स, खाद्य प्रसंस्करण और पर्यटन के क्षेत्र में निवेश करेगा। इस सम्बन्ध में कोरिया गणराज्य के दूतावास और कोरियाई व्यापार निवेश संवर्धन एजेंसी (कोटरा) के वरिष्ठ अधिकारियों ने सिक्किम राज्य मुख्य मंत्री प्रेम सिंह तमांग व वाणिज्य और उद्योग मंत्री बेदु सिंह पंथ से शुक्रवार को मुलाकात की। हिन्दुस्थान समाचार से खास बातचीत में कोरिया गणराज्य के दिल्ली स्थित दूतावास के वाणिज्यिक अटैची, क्वांग सेओक यांग ने बताया कि कोरिया 1990 से मुख्य रूप से मोटर वाहन, इलेक्ट्रॉनिक्स और रासायनिक क्षेत्रों में निवेश कर रहा है और अब यह दवा, ऊर्जा, जैविक खेती, खाद्य प्रसंस्करण और पर्यटन जैसे विभिन्न उद्योगों में अपनी रुचि का विस्तार कने की दिलचस्पी रखता है। सिक्किम में नए अवसर की कई संभावनाएं हैं। उन्होंने बताया कि प्रतिनिधिमंडल ने कोरिया और सिक्किम सरकार के बीच आर्थिक और द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा की, इसके साथ ही कोरियाई अधिकारियों द्वारा राज्य में नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं में निवेश के लिए उत्सुकता व्यक्त की गई। सिक्किम में बिजली उत्पादन की बहुत बड़ी संभावना है। कोटरा एशिया रीजन के मैनेजिंग डायरेक्टर मून यंग किम ने बताया कि कोरियाई कंपनियां बोल्ड होती हैं और नए अवसरों के लिए हमेशा तत्पर होती हैं। इसलिए सिक्किम विभिन्न संभावनाओं को देखते हुए अनुकूल स्थलों में से एक हो सकता है। हम नवीकरणीय ऊर्जा, फार्मास्यूटिकल्स, खाद्य प्रसंस्करण और अन्य क्षेत्रों में काम करने वाली कोरियाई कंपनियों के साथ राज्य में नए अवसरों की खोज करेंगे और आपसी लाभ के लिए एक दूसरे के साथ मिलकर काम करेंगे।' इस अवसर पर कोरियाई मिशन ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग को कोरियाई निर्मित मास्क भी दान किए। इसमें 3 डी प्रिंटिंग मास्क, जिसे आईसीटी डिवाइस पंग्यो एफएबी/सोंगडो एलएबी ने प्रदान किया है। इन मास्क की खासियत यह है कि इस मास्क के फिल्टर को बदलकर पुनः इस्तेमाल किया जा सकता है। इस मास्क को लंबे समय तक उपयोग किए जाने के लिए डिज़ाइन किया गया है जिससे व्यक्ति को मास्क लगाने से थकावट या सांस लेने में तकलीफ न हो। हिन्दुस्थान समाचार/विजयालक्ष्मी