शिवराज ने ऑन द स्पॉट दो अफसरों को किया निलंबित

 शिवराज ने ऑन द स्पॉट दो अफसरों को किया निलंबित
shivraj-suspended-two-officers-on-the-spot

निवाड़ी, 15 सितम्बर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के तेवर तल्ख है और वे गड़बड़ी पर ऑन द स्पॉट कार्रवाई करते नजर आ रहे है। ऐसा ही वाक्या निवाड़ी जिले में देखने को मिला, वे जेरोन में जनदर्शन कार्यक्रम में थे तभी उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना में गड़बड़ी की शिकायत मिली, तो नगर परिषद के तत्कालीन मुख्य नगर पालिका अधिकारी व एक इंजीनियर को निलंबित करने का फरमान सुना डाला। मुख्यमंत्री चौहान मंगलवार को निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र के जेरोन नगर पंचायत पहुंचे। इस दौरान उन्होंने लोगों को सरकार की ओर से कोरोना महामारी के खिलाफ चलाए गए अभियान और आमजन की सुविधा के लिए चलाई जा रही मुहिम का सिलसिलेवार ब्यौरा दिया। उन्होंने कहा कि यहां प्रधानमंत्री आवास योजना में अनियमितता की जानकारी मिली, जिस पर उन्होंने तत्कालीन सीएमओ उमाशंकर तथा इंजीनियर अभिषेक राजपूत को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने के निर्देश दिए। साथ ही पूरे प्रकरण की जांच आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो से कराने को कहा। ज्ञात हो कि पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र में आगामी समय में उप-चुनाव होने वाले है। पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर के निधन के कारण यह सीट रिक्त है। राठौर वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार के तौर पर जीते थे। भाजपा की कोशिश है कि वह हर हाल में यहां उप-चुनाव जीते और इसके लिए उसने अभी से प्रयास तेज कर दिए है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 27 करोड़ की लागत से पानी की टंकी, पाइप लाइन, घर-घर नल कनेक्शन, दो करोड़ की लागत से बस स्टैंड, एक करोड़ की राशि से तालाब का सौंदर्यीकरण कराया जायेगा। साथ ही युवाओं के लिए आईटीआई संस्थान भी खोला जाएगा। इससे पहले मुख्यमंत्री चौहान ने सतना जिले के रैगांव विधानसभा क्षेत्र के शिवराजपुर गांव में भी गड़बड़ी की शिकायत पर एक अधिकारी की मंच पर क्लास ली थी और जांच के निर्देश दिए थे। मुख्यमंत्री चौहान के तल्ख हुए तेवरों पर कांग्रेस चुटकी ले रही है। प्रदेशाध्यक्ष कमल नाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा का कहना है कि कमलनाथ ठीक कहते है कि शिवराज को एक्टिंग के लिये मुंबई चले जाना चाहिये। अब चुनावी क्षेत्रों में कलाकारी चालू। भ्रष्टाचार तो शिवराज सरकार में हर विभाग में, हर जिले में है लेकिन अभी कलाकारी सिर्फ चुनावी क्षेत्रों तक ही सीमित है । --आईएएनएस एसएनपी/आरएचए

अन्य खबरें

No stories found.