चक्रवाती तूफान जवाद के कमजोर पड़ने से तटीय आंध्र को राहत

 चक्रवाती तूफान जवाद के कमजोर पड़ने से तटीय आंध्र को राहत
relief-to-coastal-andhra-as-cyclone-jawad-weakens

विशाखापत्तनम, 4 दिसंबर (आईएएनएस)। उत्तर तटीय आंध्र प्रदेश में लोगों ने शनिवार को राहत की सांस ली, क्योंकि पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती तूफान जवाद कमजोर होकर गहरे दबाव में बदल गया और अपना रुख बदलने के बाद ओडिशा तट की ओर बढ़ गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, विशाखापत्तनम से लगभग 180 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व में 17:30 बजे डीप डिप्रेशन था। रविवार की सुबह तक इसके उत्तर-पूर्वोत्तर की ओर बढ़ने और एक दबाव में कमजोर होने की संभावना है। इसके रविवार दोपहर के करीब पुरी के पास ओडिशा तट पर पहुंचने की संभावना है। इसके बाद, इसके उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर ओडिशा तट के साथ पश्चिम बंगाल तट की ओर बढ़ने और बाद के 24 घंटों के दौरान एक अच्छी तरह से चिह्न्ति निम्न दबाव क्षेत्र में कमजोर होने की संभावना है। मौसम विभाग ने तटीय ओडिशा और उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश के साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की भविष्यवाणी की है। इससे पहले मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी ने एहतियाती उपायों पर चर्चा करने के लिए श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापत्तनम और पूर्वी और पश्चिम गोदावरी जिलों के जिला कलेक्टरों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस की थी। उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए सतर्क रहने का निर्देश दिया था कि मानव जीवन का नुकसान न हो और राहत उपायों और अन्य कार्यों के लिए प्रत्येक जिले के लिए 10 करोड़ रुपये उपलब्ध हों। --आईएएनएस एसजीके

अन्य खबरें

No stories found.