तीन तलाक विरोधी कानून की वर्षगांठ पर रविशंकर प्रसाद और ईरानी शुक्रवार को करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस
तीन तलाक विरोधी कानून की वर्षगांठ पर रविशंकर प्रसाद और ईरानी शुक्रवार को करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस
देश

तीन तलाक विरोधी कानून की वर्षगांठ पर रविशंकर प्रसाद और ईरानी शुक्रवार को करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

news

नई दिल्ली, 30 जुलाई (हि.स.)। शादीशुदा मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करने और तीन तलाक की कुप्रथा से उन्हें निजात दिलाने के लिए तीन तलाक विरोधी कानून के एक वर्ष पूरे होने के अवसर पर केंद्र सरकार इसकी वर्षगांठ मनाने की तैयारियों में जुट गई है। इसके लिए जहां एक ओर सरकार के स्तर से कई कार्यक्रम किए जाएंगे, वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) भी कई कार्यक्रम और देश के अलग-अलग हिस्सों में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रही है। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, ' तीन तलाक कानून के एक वर्ष पूरा होने पर केंद्रीय विधि-न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद और महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी "मुस्लिम महिला अधिकार दिवस" के अवसर पर 31 जुलाई की प्रातः 10:45 बजे वर्चुअल कांफ्रेंस के जरिये देश भर की मुस्लिम महिलाओं को सम्बोधित करेंगे।' नकवी ने बताया कि दिल्ली के उत्तम नगर और बाटला हाउस, उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा, लखनऊ, वाराणसी, राजस्थान के जयपुर, महाराष्ट्र के मुंबई, मध्य प्रदेश के भोपाल, तमिलनाडु के कृष्णागिरी, हैदराबाद आदि से मुस्लिम महिलाएं वर्चुअल कांफ्रेंस से जुड़ेंगी। उधर भाजपा ने तय किया है कि तीन तलाक विरोधी कानून को लेकर भी अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए 28 जुलाई से 3 अगस्त तक पूरे देश में मुस्लिम महिला सशक्तिकरण अभियान चलाया जाएगा। इसका जिम्मा भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा और महिला मोर्चा को सौंपा गया है। उल्लेखनीय है कि तीन तलाक विरोधी कानून 29 जुलाई, 2019 को राज्यसभा से पारित हुआ था। लोकसभा ने पहले ही इस कानून को मंजूरी दे दी थी। राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद अगस्त, 2019 में यह कानून लागू हुआ है। हिन्दुस्थान समाचार/अजीत/बच्चन-hindusthansamachar.in