rajnath-singh-will-discuss-12th-and-entrance-examinations-in-a-high-level-meeting-on-sunday
rajnath-singh-will-discuss-12th-and-entrance-examinations-in-a-high-level-meeting-on-sunday
देश

राजनाथ सिंह रविवार को उच्चस्तरीय बैठक में 12वीं और प्रवेश परीक्षाओं पर करेंगे चर्चा

news

नई दिल्ली, 22 मई (हि.स.)। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं कक्षा की परीक्षा और अन्य व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षाओं के प्रस्तावों पर चर्चा के लिए रविवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में मंत्रिसमूह की बैठक होगी। वर्चुअल माध्यम से 23 मई को 11 बजे आयोजित होने वाली उच्चस्तरीय बैठक में सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के शिक्षा मंक्षी, शिक्षा सचिव और राज्य परीक्षा बोर्डों के अध्यक्ष भी शामिल होंगे। बैठक में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक', केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी और केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर भी उपस्थिति रहेंगे। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' द्वारा राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे गए एक पत्र में उन्होंने कहा है कि स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग, शिक्षा मंत्रालय और सीबीएसई छात्रों और शिक्षकों की सुरक्षा के ध्यान में रखते हुए परीक्षा आयोजित करने के संबंध में विकल्प तलाश रहे हैं। उच्च शिक्षा विभाग भी उच्च शिक्षा संस्थानों के लिए परीक्षाओं की तारीखों को अंतिम रूप देने पर विचार कर रहा है। पत्र में उल्लेख किया गया है कि कोविड-19 महामारी ने शिक्षा क्षेत्र, विशेष रूप से बोर्ड परीक्षा और प्रवेश परीक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों को प्रभावित किया है। मौजूदा स्थिति को देखते हुए, लगभग सभी राज्य शिक्षा बोर्डों, सीबीएसई और आईसीएसई ने अपनी बारहवीं कक्षा की परीक्षा- 2021 को स्थगित कर दिया है। इसी तरह, राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) और अन्य राष्ट्रीय परीक्षा आयोजित करने वाले संस्थानों ने भी व्यावसायिक कोर्सेस में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है। चूंकि बारहवीं कक्षा की परीक्षाओं के आयोजन से पूरे देश में राज्य बोर्ड परीक्षाओं और अन्य प्रवेश परीक्षाओं पर प्रभाव पड़ता है और छात्रों के बीच अनिश्चितता को कम करने के लिए यह वांछनीय है कि देश भर के सभी छात्रों के हित में विभिन्न राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन के इनपुट के आधार पर बारहवीं कक्षा के बारे में विचार किया जाए। हिन्दुस्थान समाचार/सुशील