राजस्थान राजनीतिक संकट: अभी होटल में ही रहेंगे अशोक गहलोत समर्थक विधायक

राजस्थान राजनीतिक संकट: अभी होटल में ही रहेंगे अशोक गहलोत समर्थक विधायक
राजस्थान राजनीतिक संकट: अभी होटल में ही रहेंगे अशोक गहलोत समर्थक विधायक

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार का समर्थन करने वाले कांग्रेस और अन्य विधायक विधानसभा सत्र तक एक साथ ही रहेंगे. कांग्रेस विधायक दल की आज हुई बैठक में यह फैसला किया गया. इस अवसर पर मौजूद सभी विधायकों ने एकजुटता दोहराई. बैठक जयपुर के बाहर उस होटल में हुई जहां कांग्रेस और उसके समर्थक अन्य विधायक कई दिन से रुके हुए हैं. मुख्य सचेतक महेश जोशी ने कहा कि विधायक अभी 14 अगस्त तक एक साथ रहेंगे. बैठक को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ-साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय माकन ने भी संबोधित किया. उल्लेखनीय है कि कई दिन के गतिरोध के बाद राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा का सत्र 14 अगस्त से बुलाने को मंजूरी दे दी है. 15वीं राजस्थान विधानसभा का पांचवां सत्र शुक्रवार 14 अगस्त को प्रात: 11 बजे बुलाया गया है. राजस्थान विधानसभा सचिवालय के अनुसार इस बारे में सचिव प्रमिल कुमार माथुर द्वारा राजस्थान राजपत्र में अधिसूचना प्रकाशित कराई गई है. राजस्थान में खरीद-फरोख्त का ‘दाम’ बढ़ा: गहलोत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दावा किया कि विधानसभा सत्र बुलाने की तारीख तय होने के बाद राज्य में विधायकों की खरीद-फरोख्त का ‘दाम’ बढ़ गया है. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी और सरकार गिराने का षड्यंत्र करने वाली भाजपा को जनता माफ नहीं करेगी. गहलोत ने कहा कि बसपा के छह विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर बसपा प्रमुख मायावती डर और मजबूरी में बयान दे रही हैं. उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा सत्र में शक्ति परीक्षण होगा. गहलोत ने यहां उस होटल के बाहर संवाददाताओं से बातचीत की, जहां कांग्रेस और उसके समर्थक विधायक रुके हुए हैं. गहलोत ने कहा, ‘‘जब से विधानसभा सत्र बुलाने की तारीख की घोषणा हुई है, राजस्थान में खरीद-फरोख्त (विधायकों की) का ‘दाम’ बढ़ गया है. इससे पहले पहली किस्त 10 (करोड़ रुपये) और दूसरी किस्त 15 (करोड़ रुपये) की थी. अब पूछा जा रहा है कि आप बताओ, क्या चाहिए आपको?’’ उन्होंने कहा, ‘‘खरीद-फरोख्त का दाम बढ़ चुका है. राजस्थान में मुंहमांगा दाम है.’’-newsindialive.in

अन्य खबरें

No stories found.