देश का अपमान कर रहे हैं राहुल गांधी: शाहनवाज
देश का अपमान कर रहे हैं राहुल गांधी: शाहनवाज
देश

देश का अपमान कर रहे हैं राहुल गांधी: शाहनवाज

news

नई दिल्ली,12 जून (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की आलोचना करते हुए कहा कि वह वोट बैंक की राजनीति और मीडिया में बने रहने के लिए देश का अपमान कर रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने शुक्रवार को कहा कि राहुल गाँधी ने आज एक अमेरिकी नागरिक निकोलस बन्न्स से बातचीत करते हुए जिस तरह से देश की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है, वह निंदनीय है। भाजपा राहुल गाँधी के बयान और कांग्रेस की देश को बदनाम करने वाली नकारात्मक राजनीति की कड़ी भर्त्सना करती है। उन्होंने कहा कि वोट बैंक की राजनीति और मीडिया में बने रहने के लिए देश का अपमान करना, वह भी एक विदेशी नागरिक के समक्ष, निस्संदेह एक अक्षम्य अपराध है। इससे पूरी दुनिया में एक गलत संदेश गया है। शाहनवाज ने कहा कि आखिर राहुल गाँधी कब तक देश को बदनाम करते रहेंगे? देश को बदनाम करने का अधिकार किसी को भी नहीं है। देश के बारे में जिस अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल राहुल गाँधी ने किया है, उससे पूरी दुनिया में देश की छवि धूमिल हुई है। राहुल गाँधी को इसके लिए अविलंब देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि एक अमेरिकी नागरिक से बातचीत में राहुल गाँधी द्वारा यह कहा जाना कि भारत में असहिष्णुता बढ़ रही है और सहिष्णुता खत्म होती जा रही है, निश्चित रूप से देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस पार्टी और राहुल गाँधी जिस तरह लगातार देश को बदनाम करने की राजनीति कर रही है, उसे देश कभी क्षमा नहीं करेगा। राहुल गाँधी द्वारा यह तुलना करना कि अमेरिका में जिस तरह गोरे और काले का विवाद है और उनके बीच टकराव है, उसी तरह का टकराव भारत में भी हिंदू-मुस्लिम और सिख के बीच में भी हो रहा है, वह निश्चित ही निंदनीय और अक्षम्य है। यह बताता है कि राहुल गाँधी को देश की महानतम सांस्कृतिक विरासत की बिलकुल भी समझ नहीं है। भाजपा नेता ने कहा कि भारत न केवल दुनिया का सबसे विशाल लोकतंत्र है बल्कि यहाँ आज भी सर्व- समभाव है। आज भी भारत में विभिन्न समुदायों और संस्कृतियों के बीच जिस तरह की एकता है, जिस तरह का सद्भाव है, वह अद्भुत है। पूरी दुनिया में इसकी मिसाल दी जाती है। शाहनवाज ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गाँधी को देश को बदनाम करने की आदत पड़ गई है। उन्हें न तो भारतीय संस्कृति की समझ है और न ही यहाँ के सामाजिक ताने-बाने की। कोविड-19 की महामारी के दौर में राहुल गाँधी जिस तरह विदेशियों से बातचीत में देश को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं, इसकी जितनी भी भर्त्सना की जाय, कम है। कांग्रेस पार्टी को अपनी नकारात्मक और देश को बदनाम करने की राजनीति से बाज आना चाहिए। कभी देश की रक्षा में जुटे सेना का अपमान करना, कभी संवैधानिक संस्थाओं पर सवाल उठाना तो कभी विदेशी नागरिकों के साथ बातचीत में देश को बदनाम करना कांग्रेस पार्टी और राहुल गाँधी की पहचान बन चुकी है। हिन्दुस्थान समाचार/अजीत/बच्चन-hindusthansamachar.in